Home > राज्य > दिल्ली > कौन है? खुद को सबसे बड़ा ईमानदार बताने वाला सबसे बड़ा लुटेरा निकला - मंजिंदर सिंह

कौन है? खुद को सबसे बड़ा ईमानदार बताने वाला सबसे बड़ा लुटेरा निकला - मंजिंदर सिंह

एक बार नहीं हज़ार बार कहूँगा - केजरीवाल चोर है

 Sujeet Kumar Gupta |  4 July 2019 7:11 AM GMT  |  दिल्ली

कौन है? खुद को सबसे बड़ा ईमानदार बताने वाला सबसे बड़ा लुटेरा निकला - मंजिंदर सिंह

नई दिल्ली । 17 वीं लोकसभा चुनाव के बाद राजनीति में प्रचार प्रसार के लिए एक नया ही राजनेता हाथकड़ा अपना रहे है। वो है पोस्टर के जरिये, वही अकाली दल के विधायक मंजिंदर सिंह सिरसा ने केजरीवाल पर तंज कसते हुए आरोप लगाया है कि केजरीवाल सरकार पर लगे दो हजार करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार के आरोपों का समर्थन करते हुए उन्हें लुटेरा बताया है। उन्होंने केजरीवाल सरकार पर घोटाले का आरोप लगाते हुए पोस्टर भी लगवाया है।

बतादें कि मंजिंदर सिंह सिरसा ने गुरुवार को ट्विटर पर एक पोस्टर शेयर किया, जिसमें लिखा है कि खुद को सबसे बड़ा ईमानदार बताने वाला सबसे बड़ा लुटेरा निकला। स्कूलों में जो कमरा पांच लाख रुपये में बनता है उसे 25 लाख रुपये में बनवाया गया। पोस्टर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लुटेरे के रूप में दिखाया गया है।

उल्लेखनीय है भारतीय जनता पार्टी ने दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार पर शिक्षा घोटाले का आरोप लगाया है। घोटाले में भाजपा ने सीधे तौर पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को हाथ बताया है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने 1 जुलाई को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने पुराने स्कूलों में नए क्लासरूम बनाए, इसमें 2000 करोड़ रुपये का घोटाला किया गया है. उन्होंने बताया, '300 स्क्वायर फीट के कमरे बनवाए गए हैं, जिन पर हमारे हिसाब से प्रति क्लास 3-5 लाख का खर्च आता है. लेकिन दिल्ली सरकार ने एक कमरा बनाने के लिए 25 लाख रुपये आवंटित किए.'

तिवारी ने बताया कि आरटीआई से जानकारी मिली है, '77.54 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है. 12,748 क्लासरूम बन रहे हैं. कुल लागत 2892 करोड़ रुपये आती है. जबकि हमारे मुताबिक 892 करोड़ में बन जाने चाहिए.' साथ ही तिवारी ने कहा कि अपने भाई, बंधु और रिश्तेदारों को ठेके दिए, इसका खुलासा बाद में करेंगे. इस खुलासे के बाद एक मिनट भी मंत्री बने रहने लायक नहीं हैं. स्कूलों में कमरों के निर्माण के ठेके 34 ठेकेदारों को दिए गए हैं, इनमें से कुछ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता और रिश्तेदार हैं।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top