Home > राज्य > दिल्ली > SC ने कहा, ..तो ऐसी कार्रवाई होगी कि पुलिस कमिश्नर को पछताना पड़ेगा, पढ़ें- और क्या कहा!

SC ने कहा, ..तो ऐसी कार्रवाई होगी कि पुलिस कमिश्नर को पछताना पड़ेगा, पढ़ें- और क्या कहा!

कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के खिलाफ सीबीआई द्वारा दायर याचिका पर अब सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगा।

 Special Coverage News |  4 Feb 2019 6:00 AM GMT  |  दिल्ली

SC ने कहा, ..तो ऐसी कार्रवाई होगी कि पुलिस कमिश्नर को पछताना पड़ेगा, पढ़ें- और क्या कहा!

नई दिल्ली : सारदा चिटफंड घोटला में कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के खिलाफ सीबीआई द्वारा दायर याचिका पर अब सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगा। याचिका में सीबीआई ने कोर्ट से निवेदन किया था कि वह राजीव कुमार को जांच में सहयोग करने का निर्देश दें। साथ ही सीबीआई ने राजीव कुमार पर अबतक हुई इन्वेस्टिगेशन में साथ न देने का आरोप भी लगाया है।

सीबीआई द्वारा राजीव कुमार पर सबूत नष्ट करने का भी आरोप लगाया गया है। इसपर चीफ जस्टिस ने कहा, 'अगर कोलकाता पुलिस कमिश्नर ने सबूत नष्ट करने की कोशिश की है, तो उससे जुड़े साक्ष्य हमारे सामने लाए जाएं, इसपर ऐसी कार्रवाई होगी कि उन्हें पछताना पड़ेगा।'

बता दें कि अपनी याचिका में सीबीआई ने कहा था कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को कई बार समन किया गया था, लेकिन उनकी तरफ से जांच में कोई सहयोग नहीं किया जा रहा था और वह इन्वेस्टिगेशन में बाधाएं भी पैदा कर रहे थे।

क्या है पूरा मामला?

सारदा और रोजवैली चिटफंड घोटाले के सिलसिले में पूछताछ के लिए सीबीआई की एक टीम रविवार शाम को कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंची थी। तुरंत ही राज्य पुलिस के आला अधिकारी वहां पहुंच गए और सीबीआई टीम को रोक लिया। इसी बीच ममता बनर्जी भी आनन-फानन में कुमार के घर पहुंच गईं। पुलिस ने सीबीआई के 5 अफसरों को हिरासत में ले लिया, जिन्हें 2-3 घंटे बाद छोड़ दिया गया।

- पुलिस टीम कोलकाता में सीबीआई के जॉइंट डायरेक्टर को गिरफ्तार करने के लिए उनके घर पहुंच गई। ममता सीबीआई की कार्रवाई को केंद्र की राजनीतिक साजिश बताकर मेट्रो चैनल पर राजीव कुमार के साथ धरने पर बैठ गई हैं।

- अंतरिम सीबीआई चीफ एम. नागेश्वर का कहना है कि राजीव कुमार ने सबूतों को मिटाने की कोशिश की है। ममता बनर्जी ने मीडिया के सामने कहा, 'मुझ पर बहुत दबाव डाला गया। देश नरेंद्र मोदी से परेशान है।' उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र हम पर दबाव बना रहा है। राज्य के कई हिस्सों में टीएमसी कार्यकर्ता आधी रात को ही 'रेल रोको प्रोटेस्ट' करने निकल पड़े। कई जगह से आगजनी की खबरें भी आईं। डीजीपी और मुख्य सचिव ने गवर्नर केसरीनाथ त्रिपाठी से मुलाकात की। गवर्नर ने हालात नियंत्रण में होने की बात कही। सीबीआई ने भी गवर्नर से मिलने का समय मांगा।

- धरना स्थल मेट्रो चैनल पर बाकायदा मंच तैयार कर दिया गया है और तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। आपको बता दें, पश्चिम बंगाल में सोमवार को ही बजट पेश किया जाना है और ममता इस दौरान भी धरना स्थल पर डटी रह सकती हैं। अब तक मिल रही जानकारी के मुताबिक, रात भर धरने पर बैठी रहीं ममता सुबह यहीं सड़क पर कैबिनेट मीटिंग बुलाएंगी। ममता फोन से ही विधानसभा सत्र को संबोधित कर सकती हैं, जिसके बाद राज्य का बजट पेश किया जाएगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top