Home > बुराड़ी कांड में 10 लोगों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, चौंकाने वाला हुआ खुलासा!

बुराड़ी कांड में 10 लोगों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, चौंकाने वाला हुआ खुलासा!

दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक घर में मृत पाए गए 11 लोगों में से 10 की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ चुकी है।

 Arun Mishra |  2018-07-11 11:47:04.0  |  दिल्ली

नई दिल्ली : देश की राजधानी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक घर में मृत पाए गए 11 लोगों में से 10 की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ चुकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इनकी मौत की वजह फांसी पर लटकना बताया गया है और साथ ही कहा गया है कि इनके शव पर किसी तरह की चोट के निशान नहीं हैं। बता दें, 11 में 10 लोगों के शव घर में जाल से लटके हुए थे। इसके साथ ही इनके हाथ बंधे हुए थे और मुंह और आंख पर पट्टी बंधी हुई थी।

पुलिस का कहना है कि अभी 11वें शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आना बाकी है। परिवार की सबसे बुजुर्ग सदस्य नारायणी देवी की रिपोर्ट नहीं आई है। नारायणी का शव घर के एक कमरे में फर्श पर पड़ा हुआ था। इस मामले को लेकर शक जताया जा रहा है कि इस परिवार ने तंत्र-मंत्र के चलते सामूहिक आत्महत्या की है। लेकिन परिवार के रिश्तेदारों का कहना है कि यह परिवार आत्महत्या नहीं कर सकता, इनका साजिश के तहत मर्डर किया गया है।
दूसरी तरफ, दिल्ली पुलिस ने हैंडराइटिंग के नमूने एकत्र करना शुरू कर दिया, ताकि पता लगाया जा सके कि घर से जो रजिस्टर मिले हैं, वह किसने लिखे थे। पुलिस ने बुराड़ी स्थित एक स्कूुल, बैंक और तिमारपुर स्थित स्कूल को हैंडराइटिंग के नमूने लेने के लिए पत्र लिख दिया है। तिमारपुर स्थित स्कूल में भाटिया परिवार के बच्चे शिवम और ध्रुव पढ़ते थे। पुलिस ने प्रियंका के कार्यालय में पत्र लिखकर हैंडराइटिंग के नमूने मांगे हैं।
ऐसी चर्चा है कि पुलिस व एक मीडिया संस्थान को एक पत्र मिला है। पत्र लिखने वाले ने दावा किया है कि वह भाटिया परिवार को जानता है और उसने उन्हें कराला में एक तांत्रिक के पास आते-जाते देखा है। पत्र भेजने वाले ने खुद को कराला का निवासी बताया है। अपराध शाखा के संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने ऐसा पत्र मिलने से साफ इनकार किया है।

Tags:    
Share it
Top