Top
Home > राज्य > दिल्ली > जानिए क्या कहा था प्रवेश वर्मा ने? जिसको लेकर चुनाव आयोग ने दुसरी बार 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने पर लगा दी है ब्रेक

जानिए क्या कहा था प्रवेश वर्मा ने? जिसको लेकर चुनाव आयोग ने दुसरी बार 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने पर लगा दी है ब्रेक

आठ फरवरी को विधानसभा चुनाव होने है

 Sujeet Kumar Gupta |  5 Feb 2020 1:23 PM GMT  |  नई दिल्ली

जानिए क्या कहा था प्रवेश वर्मा ने? जिसको लेकर चुनाव आयोग ने दुसरी बार 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने पर लगा दी है ब्रेक

चुनाव आयोग ने बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा पर चुनाव प्रचार के लिये दूसरी बार चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दिया है बता दें कि अरविंद केजरीवाल को 'आतंकवादी' बताने वाले बयान के मामले में 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगाया गया है। आदेश के अनुसार बुधवार शाम 6 बजे से गुरुवार शाम 6 बजे तक प्रवेश के प्रचार पर पाबंदी है।

जबतक प्रवेश की पाबंदी खत्म होगी, तबतक चुनाव नियमों के अनुसार प्रचार का समय ही खत्म हो जाएगा। ऐसे में अब प्रवेश दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार नहीं कर सकते। मालूम हो कि प्रवेश वर्मा पर इससे पहले भी चुनाव आयोग ने 96 घंटे के लिए प्रचार से पाबंदी लगाई थी। अभी पिछली पाबंदी का समय पूरा हुए कुछ ही वक्त बीता है कि उन्हें फिर से अपने कड़वे बोल की कीमत चुकानी पड़ रही है।

बता दें कि पिछले दिनों प्रवेश वर्मा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आतंकवादी कहा था। इसके बाद एक टीवी चैनल के साक्षात्कार में उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि "मैंने उन्हें आतंकी नहीं, बल्कि नक्सलवादी कहा था। वह दिल्ली की जनता को गुमराह कर रहे हैं, शाहीन बाग में बैठे लोगों का समर्थन कर रहे हैं।

प्रवेश ने कहा था कि जैसे नक्सलवादी और आतंकी लोगों को गुमराह करते हैं, वैसे ही दिल्ली का मुख्यमंत्री लोगों को गुमराह करने का काम कर रहा है। उन्होंने कहा था कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता दिल्ली की सड़कों पर बसों में आग लगा रहे हैं। अगर दिल्ली में कोई सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहा है, तो वह आतंकी घटना से कम नहीं है।

इसके बाद ही बुधवार को चुनाव आयोग ने सख्त रूप अख्तियार करते हुए एक बार फिर प्रवेश वर्मा पर पाबंदी लगा दी है। अब वो अगले 24 घंटे तक किसी सार्वजनिक सभा, सार्वजनिक जुलूस, सार्वजनिक रैली, रोड शो या साक्षात्कार में शामिल नहीं हो सकते।

इससे पहले हाल ही में पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी के सांसद प्रवेश वर्मा ने नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शाहीन बाग में जारी धरना-प्रदर्शन पर भी विवादित बयान दिया था. जिसपर चुनाव आयोग ने उनपर प्रतिबन्ध लगाया था. प्रवेश वर्मा ने कहा था, 'कश्मीर में जो कश्मीरी पंडितों के साथ हुआ वो दिल्ली में भी हो सकता है. शाहीन बाग में लाखों लोग जुटते हैं, वो आपके घरों में घुस सकते हैं और आपकी बहन और बेटियों से बलात्कार (रेप) कर सकते हैं और उनकी हत्या कर सकते हैं. अब लोगों को निर्णय करना है।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it