Top
Home > राज्य > दिल्ली > 5 दिनों के लिए क्राइम ब्रांच की हिरासत में शरजील इमाम से पूछा जा सकता है ये सवाल

5 दिनों के लिए क्राइम ब्रांच की हिरासत में शरजील इमाम से पूछा जा सकता है ये सवाल

 Sujeet Kumar Gupta |  29 Jan 2020 1:41 PM GMT  |  नई दिल्ली

5 दिनों के लिए क्राइम ब्रांच की हिरासत में शरजील इमाम से पूछा जा सकता है ये सवाल

राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र शरजील इमाम को 5 दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है. इससे पहले दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच शरजील इमाम को लेकर साकेत कोर्ट पहुंची और जज के सामने पेश किया गया. डीएसपी राजेश देव के मुताबिक शरजील इमाम की 5 दिन की रिमांड मांगी गई थी।

जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने को लेकर मंगलवार (28 जनवरी) को बिहार के जहानाबाद से उसे पुलिस ने गिरफ्तार किया था। शरजील कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने के मामले में राजद्रोह का मामला दर्ज किये जाने के बाद से फरार था। शरजील को यहां एक अदालत में पेश किया गया, जिसके बाद उसे ट्रांजिट रिमांड पर दिल्ली पुलिस को सौंप दिया गया। दिल्ली पुलिस ने शरजील के खिलाफ 25 जनवरी को मामला दर्ज किया था।

जब शरजील इमाम गिरफ्तार हुआ तो उससे पुलिस, आईबी और स्पेशल टीम की पूछताछ की तो वो उस दौरान घबरा गया। पुलिस वालों ने जब उससे एक-एक कर सवाल पूछने शुरू किये तो शरजील के लिये जवाब देना मुश्किल था।

सूत्रों की मानें तो पुलिस टीम यह जानना चाह रही थी कि शरजील के भड़काऊ भाषण के पीछे किसी और का हाथ था या नहीं। पुलिस के हर सवालों से शरजील इमाम पल्ला झाड़ने की कोशिश कर रहा था। सूत्रों की मानें तो एक पुलिसवाले ने उसे आंख में आंख मिलाकर बात करने को कहा। इस पर शरजील ने अपनी आंखे झुका ली।

सूत्रों की मानें तो शरजील के जिन दो नंबरों के जरिये पुलिस उस तक पहुंची उनकी पड़ताल की जा रही है। दोनों नंबरों के सीडीआर को पुलिस निकाल रही है ताकि यह पता चल सके कि फरारी के दौरान शरजील ने किन लोगों से बात की है। किन लोगों ने उसकी मदद की और कौन लोग उसके संपर्क में थे।

शरजील पटना और जहानाबाद के कई लोगों के संपर्क में था। उसने कइयों से बात भी की। पुलिस जिस वक्त जहानाबाद में छापेमारी कर रही थी उस समय भी शरजील ने दो बार अपने मोबाइल ऑन किये थे।

पहले पूछताछ में दिया ये जवाब

पुलिस :- भड़काऊ भाषण क्यों दिया ?

शरजील :- मैं क्या कहूं नहीं समझ आ रहा।

पुलिस :- किसके कहने पर ऐसा किया। देश के खिलाफ इस तरह की बात बोलने से पहले शर्म नहीं आयी ?

शरजील :- खामोश रहा।

पुलिस :- कहां-कहां छिपे। किन लोगों ने तुम्हारा साथ दिया

शरजील :- जहानाबाद में था। पटना में भी कुछ दिनों तक।

पुलिस :- तुम्हारे साथ इस तरह के भड़काऊ भाषण देने में और कौन लोग शामिल हैं ?

शरजील :- मैं नहीं जानता।

पुलिस :- क्या तुम्हें छापेमारी का पता चल चुका था। यह जानकारी थी कि पुलिस टीम जहानाबाद पहुंच चुकी है ?

शरजील :- हां। पता चल गया था।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it