Top
Begin typing your search...

दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र आज से,कोरोना वायरस के साथ और मुद्दों पर होगी चर्चा

भाजपा विशेष सत्र में सरकार को पूरी तरह घेरने की तैयारी में है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने साफ किया है कि सीएए और एनआरसी को लेकर आम आदमी पार्टी झूठा प्रचार कर रही है।

दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र आज से,कोरोना वायरस के साथ और मुद्दों पर होगी चर्चा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी), राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) और कोरोना वायरस की स्थिति पर चर्चा के लिए आज विधानसभा का एक-दिवसीय विशेष सत्र बुलाने का फैसला किया है तो ये विशेष सत्र हंगामेदार होने के आसार है।

वहीं, विपक्ष दिल्ली की समस्याओं पर चर्चा कराने की तैयारी में है। ऐसे में जहां दिल्ली सरकार केंद्र की नीतियों को कठघरे में खड़ा करेगी तो विपक्ष एकजुटता के साथ इसके समर्थन में अपना पक्ष रखने की तैयारी में है। सत्ता पक्ष एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ एक प्रस्ताव ला सकता है।

भाजपा विशेष सत्र में सरकार को पूरी तरह घेरने की तैयारी में है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने साफ किया है कि सीएए और एनआरसी को लेकर आम आदमी पार्टी झूठा प्रचार कर रही है।

सदन में दिल्ली की समस्याओं पर चर्चा होनी चाहिए। पर्यावरण, परिवहन व्यवस्था और स्वच्छ पेयजल के मुद्दे पर बहस होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की ओर से राजधानी में कोरोना को महामारी घोषित करने के साथ ही हम सबकी जिम्मेदारी पहले से कहीं अधिक बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि सभी को मिलकर इस महामारी का सामना करने की आवश्यकता है।

इसके अलावा नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पिछले महीने हुई हिंसा को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के विधायक एक-दूसरे पर निशाना साध सकते हैं. इस हिंसा में कम से कम 53 लोगों की जान चुकी है और 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं. अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी के लगातार तीसरी बार सत्ता में लौटने के बाद दिल्ली विधानसभा का ये पहला विशेष सत्र है।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it