Top
Home > राज्य > दिल्ली > दिल्ली में कोरोना ने तोड़ा कल का रिकॉर्ड, 1106 नए मरीज मिले, 17 हजार के पार पहुंचे मामले

दिल्ली में कोरोना ने तोड़ा कल का रिकॉर्ड, 1106 नए मरीज मिले, 17 हजार के पार पहुंचे मामले

राजधानी में अब तक 398 लोगों की मौत हो चुकी है।

 Arun Mishra |  29 May 2020 11:06 AM GMT  |  दिल्ली

दिल्ली में कोरोना ने तोड़ा कल का रिकॉर्ड, 1106 नए मरीज मिले, 17 हजार के पार पहुंचे मामले

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस अब दिल्ली में भयावह रूप लेती जा रही है। दिल्ली में अब तक कुल 17386 लोग कोरोना वायरस संक्रमण के शिकार हो चुके हैं। इनमें 1106 नए केस शुक्रवार को सामने आए हैं, जबकि अब तक 7846 मरीज पूरी तरह ठीक भी हो चुके हैं। इनमें 351 मरीजों को गुरुवार को अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया था। राजधानी में कुल 398 लोगों की मौत हो चुकी है।

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से शुक्रवार को 82 लोगों की मौत हुई, जिनमें से 69 ऐसे हैं जिनके बारे में देर से पता चला था। इसके बावजूद सिसोदिया ने कहा कि किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है। दिल्ली में कोविड-19 से स्वस्थ होने की दर करीब 50 फीसदी है। बिना कोविड-19 संक्रमण के लक्षण के अस्पतालों में जाने की कोई जरूरत नहीं है। 80-90 फीसदी मरीज घर में ही आइसोलेशन में रहकर स्वस्थ हो रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, देश और दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी बढ़ रहे हैं। कोरोना से घबराने की बात नहीं है, लेकिन खुद को कोरोना से बचाने के लिए सचेत रहना जरूरी है। किसी भी तरह के पैनिक में आने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को कोरोना से दिल्ली में 13 मौत हुई हैं। इसके साथ-साथ 69 डेथ के मामले पुराने थे जो किसी अस्पताल में अलग-अलग समय में हुई हैं। हमारी कमेटी ने जांच की वह अब और ऐड हुआ है। अब मौत का जो टोटल है उसमें 82 मौत अतिरिक्त दिखाई देंगी। मगर कल की बात करे तो वह संख्या 13 ही है। बाकी 69 मौत बीते 34 दिनों में हुई हैं। 52 सफदरजंग में हुई हैं और बाकी अलग-अलग अस्पताल की हैं। इनकी लेट रिर्पोटिंग हुई है।



इन सबके बाद यह जानना जरूरी है कि दिल्ली में कोरोना के जो मरीज हैं। मरीज बढ़ रहे है लेकिन दिल्ली में अच्छी बात यह है कि लोग ठीक हो रहे है। ठीक होने का फीसद करीब 50 फीसद है। दिल्ली ही नहीं दुनियाभर में देखने को मिल रहा है कि लोग घरों में रहकर ठीक हो रहे हैं। यह भी देखने में आ रहा है कि लोग पैनिक हो रहे हैं और उनके पड़ोसी भी घबरा रहे हैं। अगर आपको कोरोना है मगर कोई लक्षण नहीं है तो घर में ही आइसोलेशन में रहने की जरूरत है। चिंता करने और अस्पताल जाने की जरूरत नहीं है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it