Top
Begin typing your search...

अथ श्री डिप्रेशन कथा की चौथी सीरीज: कूपर हस्पताल से क्या है हर सुसाइड का नाता ?

डिप्रेशन से हुई आत्महत्या है, यह जांच से पहले कैसे पता ?

अथ श्री डिप्रेशन कथा की चौथी सीरीज: कूपर हस्पताल से क्या है हर सुसाइड का नाता ?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अगली सीरीज की कहानी अगले दिन क्रमशः

डिप्रेशन से हुई आत्महत्या है, यह जांच से पहले कैसे पता ?

- सुशांत की मौत की खबर आते ही उसी दिन से भट्ट बंधुओं ने इसे डिप्रेशन से हुई आत्महत्या साबित करने के लिए मीडिया और सोशल मीडिया में अच्छी खासी बयानबाजी करके एक अभियान भी छेड़ दिया था

- सुशांत की लाश के बगल में ही डिप्रेशन की दवाएं और उनकी फाइल का मिलना जता रहा है संदेह कि इसे जानबूझ कर डिप्रेशन से हुई आत्महत्या का रंग दिया जा रहा है

- सुशांत का स्टाफ, रिया चक्रवर्ती, सुशांत का दोस्त संदीप सिंह और उसकी बहन ने भी लाश की बरामदगी के साथ ही अंकिता लोखंडे से हुए अलगाव के कारण उपजे डिप्रेशन से हुई आत्महत्या साबित करने के लिए मीडिया को दिए थे बयान

- जबकि उसी के कुछ घंटे पहले सुशांत ने अपने दोस्तों के साथ रात भर उसी फ्लैट में मचाया था हल्ला गुल्ला और मनाई थी जमकर पार्टी

कूपर हस्पताल से क्या है हर सुसाइड का नाता ?

- सुशांत का शव जब एंबुलेंस में लादा जा रहा था तो उसी समय के एक विडियो में एंबुलेंस का दरवाजा बंद कर रहे शख्स ने जोर से चिल्ला कर ड्राइवर को लीलावती हॉस्पिटल ले जाने के लिए कहा. लेकिन बाद में पता चला कि सुशांत का दोस्त संदीप सिंह शव समेत एंबुलेंस को वहां से बेहद दूर कूपर अस्पताल में ले गया. एक अन्य वीडियो में संदीप ने खुद बताया कि वह कूपर अस्पताल में देर रात रुका और पोस्टमॉर्टम की कार्यवाही पूरी होने पर ही लौटा.

- कूपर हस्पताल वही हस्पताल है, जहां सुशांत, दिव्या भारती, जिया खान, परवीन बॉबी समेत अब तक फिल्म इंडस्ट्री में डिप्रेशन को आधार मानकर जितनी भी संदिग्ध मौतें हुईं हैं, उनमें से सभी की या ज्यादातर की लाश उसी कूपर हॉस्पिटल में ले जाई गई है.

- कूपर हस्पताल मुंबई नगर पालिका का अस्पताल है. जिया खान का शव भी एक रात वहां रखने के बाद ही उसे न जाने किन अज्ञात कारणों से उसके बाद हॉरर अस्पताल वाले इलाके भायखुला में स्थित एक अन्य अस्पताल जे जे हस्पताल में ले जाया गया.

- कूपर हॉस्पिटल में मात्र 10 हजार रुपए देकर डैथ सर्टिफिकेट बनवाने का एक वीडियो भी वायरल हो चुका है। इसके अलावा, घूस देकर फर्जी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट बनवाने के चक्कर में सरकार वहां के डॉक्टर और कर्मचारियों पर कार्यवाही भी कर चुकी है।

क्या सुशांत भी थे हाउस ऑफ हॉरर की गिरफ्त में !!!

- सुशांत के डिप्रेशन का इलाज कुल चार डॉक्टर कर रहे थे। पुलिस ने अभी तक इनमें से केवल एक हिंदुजा अस्पताल के मनोचिकित्सक डॉक्टर केरसी चावड़ा का नाम ही उजागर किया है। बाकी तीन डॉक्टर कौन हैं, इसका खुलासा अभी तक नहीं हो सका है।

- खबरों के मुताबिक, सुशांत के दोस्त महेश शेट्टी इन चार डॉक्टरों में से किसी एक के यहां सुशांत को ले गए थे। महेश शेट्टी कहां किस डॉक्टर के पास ले गए थे, यह सवाल भी बेहद अहम है?

- खबर यह भी है कि सुशांत डिप्रेशन के किसी हस्पताल में पंद्रह दिन के लिए भर्ती भी हुए थे। वह हस्पताल कौन सा था ? क्या यह वही हाउस ऑफ हॉरर तो नहीं था , जिसके मालिक सुशांत के दुश्मन महेश भट्ट के जिगरी थे ?

- डिप्रेशन के लिए सुशांत का इलाज करने वाले इन चार डॉक्टरों में से या सुशांत जहां भर्ती हुए थे, उस हस्पताल में से अगर कोई डॉक्टर और हस्पताल वही हाउस ऑफ हॉरर व महेश भट्ट के जिगरी दोस्त का निकलता है तो फिर यह सवाल भी उठेगा कि सुशांत को वहां तक लेकर कौन गया ? क्या महेश शेट्टी, रिया या संदीप ने सुशांत को वहां तक पहुंचाया? जिसने वहां तक पहुंचाया, वह महेश भट्ट के संपर्क में था या नहीं? उस हस्पताल में और उस डॉक्टर ने आखिर सुशांत को कौन सी दवाइयां दी?

- पायल रोहतगी ने भी एक विडियो जारी करके यह आरोप लगाया है कि एक कुख्यात मनोचिकित्सक की मदद से सुशांत की हत्या की गई है। उस मनोचिकित्सक को उन्होंने ऐसे मामलों का एक्सपर्ट बताते हुए कहा है कि सुशांत के मर्डर का राज इसी डॉक्टर और उसकी दवाओं में छिपा है। पायल ने किसी दिबाकर बनर्जी का नाम लेते हुए कहा है कि सुशांत को उसी कुख्यात डॉक्टर के पास बनर्जी ने भेजा था। उस डॉक्टर की सच्चाई का पता पायल को खुद अपना इलाज करवाने के दौरान पता चला। उनका कहना है कि वह डॉक्टर सभी को बाइपोलर डिसऑर्डर का मरीज बताता है। पायल ने हालांकि यह भी आरोप लगाया कि सुशांत को इन दवाओं को देकर पहले खराब और लगभग अचेतन मानसिक अवस्था में पहुंचाया गया और फिर उनका गला घोंट कर उन्हें मार डाला गया। इसके लिए उन्होंने अप्रत्यक्ष रूप से महेश भट्ट और रिया को ही जिम्मेदार ठहराया।

सुशांत के एक और डॉक्टर से है भट्ट का नाता !!

- सुशांत के डिप्रेशन का इलाज कर रहे चार डॉक्टरों में से जिन एक डॉक्टर का नाम अभी तक सामने आया है, यानी डॉक्टर करसी चावड़ा, उनकी पढ़ाई लिखाई भी उसी स्कूल से हुई है, जहां से महेश भट्ट पढ़े हैं।

दिव्या भारती और सुशांत के डॉक्टर हैं एक ही अस्पताल के

- यही नहीं, उसी हिंदुजा अस्पताल में सुशांत के मनोचिकित्सक के साथ जो एक और मनोचिकित्सक हैं, वह वही श्याम लुल्ला हैं, जो मशहूर फिल्म अभिनेत्री दिव्या भारती के डिप्रेशन से हुए सुसाइड के अपनी पत्नी के साथ कुल जमा तीन गवाहों में से दो अहम गवाह भी हैं बल्कि दिव्या भारती के डिप्रेशन की मरीज होने और उनसे ही इसका इलाज चलने का दावा भी उन्होंने ही किया था। तीसरी गवाह दिव्या भारती की नौकरानी थी, जिसकी संदिग्ध परिस्थितियों में दिव्या की मौत के चंद रोज बाद ही हार्ट फेल होने से मौत हो गई।

अश्वनी कुमार श्रीवास्त�
Next Story
Share it