Top
Home > राज्य > हरियाणा > चंडीगढ़ > दुष्यंत चौटाला बनेंगें डिप्टी सीएम, किसने कराई 65 के मनोहर लाल और 31 साल के दुष्यंत चौटाला की दोस्ती?

दुष्यंत चौटाला बनेंगें डिप्टी सीएम, किसने कराई 65 के मनोहर लाल और 31 साल के दुष्यंत चौटाला की दोस्ती?

क्यों खास है बीजेपी-जेजेपी गठबंधन

 Special Coverage News |  25 Oct 2019 4:36 PM GMT  |  दिल्ली

दुष्यंत चौटाला बनेंगें डिप्टी सीएम, किसने कराई 65 के मनोहर लाल और 31 साल के दुष्यंत चौटाला की दोस्ती?
x

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि जेजेपी और निर्दलियों की गठबंधन सरकार हरियाणा में बनेगी. जिसमें बीजेपी के सीएम और जेजेपी के होंगे डेप्युटी सीएम होंगे. हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी (BJP) और जननायक जनता पार्टी (JJP) मिलकर सरकार बनाने जा रही है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit shah) और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ जेजेपी प्रमुख दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) की हुई बैठक के बाद इस गठबंधन पर मुहर लगी है.

यूं तो बीजेपी निर्दलीय विधायकों के समर्थन से बहुमत के आंकड़े तक पहुंच रही थी, लेकिन सरकार को स्थयित्व देने के लिए जेजेपी के साथ गठबंधन किया गया है. हरियाणा की राजनीति में दिलचस्पी रखने वालों के मन में सवाल उठना लाजमी है कि जेजेपी ने जिस मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ प्रचार करके महज 10 महीने में विधानसभा की 10 सीटें जीती हैं, भला वे उनके साथ सरकार में कैसे शामिल होने को तैयार हो गए. किसके कहने पर दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने मनोहर लाल खट्टर से दोस्ती कर ली. आइए इन तमाम सवालों और पर्दे के पीछे की राजनीति की पूरी कहानी जानते हैं.

BJP के इस दूत ने कराई बुजुर्ग खट्टर की यंग दुष्यंत से दोस्ती

बीजेपी+जेजेपी गठबंधन कराने में बीजेपी के युवा और प्रतिभाशाली सांसद अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने अहम भूमिका निभाई. माना जाता है कि दोस्ती हमेशा बराबर के उम्र वालों में अच्छी बनती है. शायद इसी बात का ख्याल रखते हुए बीजेपी के हाईकमान ने जेजेपी के प्रमुख दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) को गठबंधन के लिए राजी करने की जिम्मेदारी 45 वर्षीय अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) को सौंपी. बीजेपी में अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) की छवि बड़े अच्छे मैनेजर के रूप में मानी जाती है. अनुराग बीसीसीआई में भी अहम पद संभाल चुके हैं. साथ ही वह विभिन्न पार्टियों के युवा नेताओं के साथ खासा मेलजोल रखते हैं.

सूत्र बताते हैं कि दुष्यंत जब कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे थे उसी दौरान अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) से मेलजोल हुआ था. इसी दोस्ती के सहारे अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) शुक्रवार शाम को दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) के आवास पर पहुंचे. अनुराग ने दुष्यंत को विधानसभा चुनाव में जीत की बधाई दी. साथ ही बीजेपी संग सरकार बनाने के लिए राजी कर लिया. थोड़ी देर बातचीत के बाद अनुराग खुद दुष्यंत को गाड़ी में लेकर अमित शाह (Amit shah) के घर पर पहुंचे. यहीं सरकार के रूपरेखा और गठबंधन की पूरी डील फाइनल हुई. बातचीत के बाद 31 साल के दुष्यंत 65 वर्षीय मनोहर लाल खट्टर के साथ सरकार बनाने को राजी हो गए.

सूत्र बताते हैं कि बीजेपी और जेजेपी का यह गठबंधन न्‍यूनतम साझा कार्यक्रम के तहत हुआ है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit shah) ने प्रेस कांफ्रेंस में स्पष्ट कर दिया कि सरकार में बीजेपी के मुख्यमंत्री और जेजेपी के उपमुख्यमंत्री होंगे. बताया जा रहा है कि जेजेपी की ओर से चुनाव प्रचार में किए गए कई ज्यादातर वादों को बीजेपी पूरा करने को तैयार हो गई है. साथ ही जेजेपी से कहा गया है कि अगले साल जनवरी में होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान वह बीजेपी को जाट वोटों का फायदा कराने में मदद करेंगे. माना जाता है कि दिल्ली में करीब 28 लाख जाट वोटर हैं.

क्यों खास है बीजेपी-जेजेपी गठबंधन

बीजेपी और जेजेपी का गठबंधन बेहद खास माना जा रहा है. दरअसल, जेजेपी जाट जाति की राजनीति करती है वहीं बीजेपी पिछले दो चुनावों से गैर जाट समीकरण का फॉर्मूला आजमाती रही है. 2014 और 2019 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी का प्रचार लगातार इस बात पर फोकस रहा कि जाट बनाम 33 गैर जाट जाति वोटर का समीकरण. इसी वजह से मनोहर लाल खट्टर सरकार को पहले कार्यकाल में जाटों के दो बड़े आंदोलन का भी सामना करना पड़ा. जेजेपी का खट्टर सरकार को सपोर्ट करने का मतलब है कि बीजेपी अब जाटों से नजदीकी बढ़ाने के मूड में है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it