Home > राज्य > हरियाणा > गुडगांव > रॉबर्ट वाड्रा और हरियाणा के पूर्व CM भूपिंदर हुड्डा पर जमीन हथियाने के केस में एफआईआर दर्ज

रॉबर्ट वाड्रा और हरियाणा के पूर्व CM भूपिंदर हुड्डा पर जमीन हथियाने के केस में एफआईआर दर्ज

 Special Coverage News |  2018-09-02 02:45:14.0

रॉबर्ट वाड्रा और हरियाणा के पूर्व CM भूपिंदर हुड्डा पर जमीन हथियाने के केस में एफआईआर दर्ज


गुरुग्राम में जमीन घोटाले के केस में रॉबर्ट वाड्रा और हरियाणा के पूर्व सीएम भूपिंदर हुड्डा पर एफआईआर दर्ज करवाई गई है. इस एफआईआर में डीएलएफ कंपनी गुरुग्राम और ओंकारेश्वर प्रॉपर्टीज का नाम भी शामिल है. यह एफआईआर खेड़कीदौला पुलिस स्टेशन में दर्ज करवाई गई है. इस मुद्दे पर रॉबर्ट वाड्रा ने भी कहा कि चुनाव आ रहे हैं इसलिए उनके पुराने मामलों को फिर से सामने लाया जा रहा है.


रॉबर्ट वाड्रा और अन्य पर यह एफआईआर भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 120B, 467, 468 और 471 के तहत दर्ज की गई है. यह केस सुरेंद्र शर्मा नाम के शख्स ने दर्ज करवाई है.पुलिस को दी शिकायत में सुरेंद्र शर्मा ने बताया कि 2007 में स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी कंपनी ने शिकोहपुर गांव में ओंकारेश्वर प्रॉपर्टीज के जरिए साढ़े तीन एकड़ जमीन औने-पौने रेट में खरीदी. इस कंपनी के डायरेक्टर रॉबर्ट वाड्रा हैं. आरोप है कि उस दौरान हरियाणा के सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने नियम ताक पर रखते हुए इस जमीन को कर्मशल बना दिया.


इसके बाद डीएलएफ ने स्काईलाइट कंपनी को करोड़ों का फायदा पहुंचाते हुए इस जमीन को 58 करोड़ रुपये में खरीद लिया. पुलिस के अनुसार, स्काईलाइट कंपनी ने जब रजिस्ट्री करवाई, उस समय इस कंपनी की वर्थ एक लाख रुपये थी और इस कंपनी के अकांउंट में पैसे भी नहीं थे. रजिस्ट्री के दौरान जो चेक लगाए गए, वह भी कहीं पर कैश नहीं हुए. हुड्डा पर यह भी आरोप है कि वजीराबाद गांव में 350 एकड़ जमीन डीएलएफ कंपनी को गलत तरीके से अलॉट कर उसे करीब पांच हजार करोड़ का फायदा पहुंचाया.


रॉबर्ट वाड्रा और हुड्डा पर गुरुग्राम में हुए FIR के मामले पर बीजेपी नेता जवाहर यादव ने कहा यह व्यक्तिगत लड़ाई नहीं है, यह भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी सामूहिक लड़ाई है. राज्य और केंद्र में बीजेपी सरकार किसी भी कीमत पर भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं कर सकती है.


अपने खिलाफ हुए FIR के मामले पर रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि चुनाव नजदीक है, तेल के दाम बढ़े हुए हैं तो मेरे बरसों पुराने मुद्दे को उठाकर आम जनता के मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाया जा रहा है। इसमें नया क्या है?

Tags:    
Share it
Top