Home > राज्य > हरियाणा > Chocolate Day मनाकर रात को पड़ोसी की छत पर मिलने गया प्रेमी जोड़ा, सुबह मिलीं दोनों की लाशें

Chocolate Day मनाकर रात को पड़ोसी की छत पर मिलने गया प्रेमी जोड़ा, सुबह मिलीं दोनों की लाशें

पंचायत के बाद भी दोनों एक-दूसरे के संपर्क में रहे. करीब 5 महीने पहले लड़की के घर वालों ने उसके पास से एक मोबाइल फोन पकड़ था, जो सन्नी ने ही उसे दिया था.

 Special Coverage News |  2019-02-12T13:00:28+05:30  |  दिल्ली

Chocolate Day मनाकर रात को पड़ोसी की छत पर मिलने गया प्रेमी जोड़ा, सुबह मिलीं दोनों की लाशें

हरियाणा के यमुनानगर में एक प्रेम कहानी हमेशा-हमेशा के लिए खत्म हो गई. यहां के शिवनगर में शनिवार देर रात एक प्रेमी जोड़े की 11kv की तारों की चपेट में आने से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि दोनों वैलेंटाइन वीक का चॉकलेट डे मनाने के बाद मिलने के लिए पड़ोसी की छत पर पहुंचे थे. तभी बिजली के तारों की चपेट में आने से दोनों की मौके पर ही मौत हो गई.

लड़के का नाम सन्नी था और वह 19 साल का था, जबकि लड़की की उम्र 15 साल थी. सन्नी अपने परिवार का इकलौता बेटा था, उसकी तीन बहनें हैं. तो वहीं दूसरी ओर लड़की भी अपने दो भाइयों के अलावा परिवार की इकलौती बेटी थी. बताया जा रहा है कि दोनों के बीच पिछले कई महीनों से प्रेम संबंध चल रहा था. करीब 5 महीने पहले लड़की के घर वालों ने उसके पास से एक मोबाइल फोन पकड़ था, जो सन्नी ने ही उसे दिया था.

लड़की के घर वालों ने पंचायत में सन्नी की शिकायत करा दी. जिसके बाद पंचायत में सन्नी को कई थप्पड़ मारे गए और आगे से कभी लड़की से बात न करने की शर्त पर उसे छोड़ दिया गया. लेकिन दोनों के बीच प्यार का रिश्ता इतना गहरा गया था कि वे एक-दूसरे को छोड़ने के लिए तैयार ही नहीं हुए. पंचायत के बाद भी दोनों एक-दूसरे के संपर्क में रहे. मारी गई लड़की अभी 8वीं क्लास की छात्रा थी, जबकि सन्नी कारपेंटर बनने के लिए काम सीख रहा था. लड़की स्कूल आते-जाते वक्त ही सन्नी से मिला करती थी, क्योंकि दोनों के घर के बीच करीब 200 मीटर की ही दूरी थी.

हादसे का खुलासा उस वक्त हुआ जब रविवार की सुबह लड़की की मां उसे खोजते हुए छत पर जा पहुंची. लड़की की मां ने देखा कि पड़ोस की छत पर दो जली हुई लाशें पड़ी हुई हैं. ये नजारा देख महिला की चीख निकल गई. छत पर जाकर देखा गया तो वे दोनों लाशें उनकी बेटी और सन्नी की ही थी. दोनों की लाशें एक जेई की छत पर मिली थीं. छत के महज दो फीट की ऊंचाई पर ही 11kv की बिजली की तारें गुजर रही हैं. ऐसा माना जा रहा है कि रात के समय अंधेरा होने की वजह से उन्हें बिजली की तारें नहीं दिखाई दी होंगी और वे इसकी चपेट में आ गए. दोनों की लाशें एक-दूसरे से करीब 5 फीट की दूरी पर मिली थीं.

Tags:    
Share it
Top