Home > राज्य > हरियाणा > सोनीपत > छात्राओं ने खोले स्कूल स्टाफ के ऐसे राज, जिसे सुनकर परिजनों के उस गये होश, शिक्षाधिकारी भी चौंक गये

छात्राओं ने खोले स्कूल स्टाफ के ऐसे राज, जिसे सुनकर परिजनों के उस गये होश, शिक्षाधिकारी भी चौंक गये

 Special Coverage News |  2018-09-05 17:06:41.0  |  सोनीपत

छात्राओं ने खोले स्कूल स्टाफ के ऐसे राज, जिसे सुनकर परिजनों के उस गये होश, शिक्षाधिकारी भी चौंक गये

एक तरफ जहां सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा दे रही है, वहीं अध्यापक इस मामले को उल्टा कर रहे हैं. शिक्षक दिवस पर सोनीपत में ऐसा ही एक शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है. छात्राओं ने अध्यापकों पर गंभीर आरोप लगाए हैं, आरोपी ऐसे हैं जिनको सुनकर हर कोई चौंक गया. मामला सोनीपत के उपमंडल खरखौदा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय का है जहां छात्राओं ने शिक्षकों का काला चिट्ठा उजागर कर दिया.


जब इस मामले का सोनीपत जिला शिक्षा अधिकारी जिले सिंह को पता चला तो वह आनन-फानन में लड़कियों के स्कूल में पहुंचे. जब उन्होंने लड़कियों से बात पूछी तो लड़कियों की बातें सुनकर जिला शिक्षा अधिकारी भी दंग रह गए. बातें ऐसी थी जिनको हम खुलकर बता भी नहीं सकते. छात्राओं ने शिक्षा अधिकारी को बताया कि स्कूल हेड मास्टर लड़कियों का हाथ पकड़ता है, डबल मीनिंग में बात करता है. छात्राओं का आरोप है कि हमारे स्कूल के हेड मास्टर का लड़कियों के प्रति व्यवहार बिल्कुल ठीक नहीं है.


छात्राओं ने बताया कि उनके स्कूल में कार्यकारी प्राचार्य का पद संभाल रहे राजबीर नैन का आचरण ठीक नहीं है. वह आए दिन छात्राओं को यौन शोषण के लिए उकसाते हैं. वहीं कुछ महिला अध्यापकों की मदद से छात्राओं को होटल भी भेजा जाता है. उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले ही कई छात्राओं को सुबह स्कूल से ले जाया गया और छुट्टी होने से पहले उन्हें वापस छोड़ दिया गया.


छात्राओं ने अधिकारी के सामने स्कूल के बिगड़ते माहौल के बारे में सब खुलकर बताया और स्कूल स्टाफ को तुरंत प्रभाव से बदलवाने की गुहार लगाई. गौरतलब है कि पिछले सप्ताह इसी स्कूल की छात्राओं की आपस में लड़ाई हुई थी जिसमें चाकूओं से भी वार हुए थे. निरीक्षण के लिए पहुंचे डीईओ को छात्राओं ने बताया कि इस लड़ाई के समय भी स्कूल स्टाफ मौन बना रहा और किसी ने बीच-बचाव तक नहीं किया.

Tags:    
Share it
Top