Top
Home > हेल्थ > कोरोना महामारी के दौरान भारत की एक और बड़ी कामयाबी

कोरोना महामारी के दौरान भारत की एक और बड़ी कामयाबी

कोरोना के इस संकट काल ने भारत आत्मनिर्भरता की दिशा में भी आगे बढ़ रहा है. कोरोना वायरस से जंग में व्यक्तिगत सुरक्षा परिधान यानी पीपीई किट मुख्य सुरक्षा कवच है.

 Shiv Kumar Mishra |  22 May 2020 3:06 AM GMT  |  दिल्ली

कोरोना महामारी के दौरान भारत की एक और बड़ी कामयाबी
x

नई दिल्ली: कोरोना (Corona) के इस संकट काल ने भारत आत्मनिर्भरता की दिशा में भी आगे बढ़ रहा है. कोरोना वायरस (Coronavirus) से जंग में व्यक्तिगत सुरक्षा परिधान यानी पीपीई किट मुख्य सुरक्षा कवच है. पीपीई किट कोरोना वारियर्स को कोरोना के संक्रमण से बचाती है और सिर्फ दो महीने में भारत दुनिया में सबसे ज्यादा पीपीई किट बनाने वाला दूसरा देश बन गया है.

सरकार ने गुरुवार को यह जानकारी दी कि भारत दो महीने के कम समय के भीतर व्यक्तिगत सुरक्षा परिधान (पीपीई) का दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा विनिर्माता यानी मैन्युफैक्चरर गया है. इस क्षेत्र में भारत से आगे सिर्फ चीन है. चीन पीपीई का सबसे बड़ा मैन्युफैक्चरर है.

कपड़ा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि उसने पीपीई की गुणवत्ता और मात्रा दोनों में सुधार करने के लिये कई कदम उठाए हैं। यही कारण है कि भारत दो महीने से भी कम समय में पीपीई का दूसरा सबसे बड़ा मैन्युफैक्चरर बन गया है.

मंत्रालय ने यह सुनिश्चित करने के लिए भी कदम उठाए हैं कि पूरी आपूर्ति श्रृंखला में केवल प्रमाणित कंपनियां ही पीपीई की आपूर्ति करें। अब कपड़ा समिति, मुंबई भी स्वास्थ्य कर्मचारियों और अन्य कोरोना वारियर्स के लिए आवश्यक पीपीई का परीक्षण और प्रमाणन करेगी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it