Top
Home > हेल्थ > बुरी खबर: Coronavirus का पहला टीका हुआ फेल, गलती से जारी हुए रिपोर्ट में हुआ खुलासा

बुरी खबर: Coronavirus का पहला टीका हुआ फेल, 'गलती' से जारी हुए रिपोर्ट में हुआ खुलासा

कंपनी का दावा है कि क्लीनिकल ट्रायल के लिए चीन में ज्यादा लोग नहीं मिल पाए थे. यही कारण है कि अभी ट्रायल पूरा नहीं हो पाया है.

 Shiv Kumar Mishra |  24 April 2020 8:17 AM GMT  |  दिल्ली

बुरी खबर: Coronavirus का पहला टीका हुआ फेल, गलती से जारी हुए रिपोर्ट में हुआ खुलासा
x

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण रोकथाम के लिए दुनियाभर में टीके तैयार करने का मिशन जारी है. लेकिन इस बीच एक बुरी खबर है. कोरोना वायरस रोकथाम के लिए तैयार हो रहे टीकों में से पहला टीका ट्रायल में फेल साबित हुआ है. क्लीनिकल ट्रायल के दौरान ये टीके कोरोना वायरस से जीतने में नाकाम साबित हुए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की ओर से 'गलती' से जारी हुए रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गिलीड (Gilead) कंपनी ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए एक एंटीवायरल टीका तैयार किया था. लेकिन चीन में हुए क्लीनिकल ट्रायल में ये टीका असफल साबित हुआ है. रिपोर्ट के अनुसार गिलीड का एंटी वायरल रेमडेसिविर (Remdesivir) टीका कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने में नाकाम साबित हुआ है.

हालांकि गिलीड ने इस खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि WHO की ओर से जारी रिपोर्ट अधूरा है. कंपनी का दावा है कि क्लीनिकल ट्रायल के लिए चीन में ज्यादा लोग नहीं मिल पाए थे. यही कारण है कि अभी ट्रायल पूरा नहीं हो पाया है.

मामले से जुड़े जानकारों का कहना है कि ज्यादातर अमेरिकन और यूरोपियन कंपनियां अपने ट्रायल में तेजी ला चुकी है. उम्मीद जताई जा रही है कि सबसे पहला टीका जून या जुलाई में आ जाए. हालांकि टीके का लॉन्च होना इस बात पर भी निर्भर करता है कि ये कितनी जल्दी सुरक्षा मानकों पर खरे उतरते हैं.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it