Top
Home > हेल्थ > क्या आप जानते हैं ? ब्रेन ट्यूमर के ये हैं 7 संकेत

क्या आप जानते हैं ? ब्रेन ट्यूमर के ये हैं 7 संकेत

जब ब्रेन में अनियंत्रित सेल्स फैलने लगते हैं तो धीरे-धीरे ये सेल्स कैंसर का रूप ले लेते हैं।

 Sujeet Kumar Gupta |  11 Feb 2020 6:35 AM GMT  |  नई दिल्ली

क्या आप जानते हैं ? ब्रेन ट्यूमर के ये हैं 7 संकेत
x

ब्रेन ट्यूमर घातक हो सकता है अगर समय रहते इसके संकेतों को न समझा जाए। ब्रेन ट्यूमर की शुरुआत होने पर व्यक्ति में कुछ लक्षण नजर आते हैं, लेकिन इसे सामान्य समझने की गलती हो जाती है। कई मरीजों में ब्रेन ट्यूमर के लक्षण बहुत पहले से नजर आने लगते हैं, लेकिन कुछ मामलों में ये लक्षण किसी अन्य बीमारी के कारण भी हो सकते हैं। इसलिए ब्रेन ट्यूमर को समझना और उसके लक्षणों को जानना बेहद जरूरी है।

तेज और लगातार सिर दर्द- बार-बार सिरदर्द, सिरदर्द का धीरे-धीरे गंभीर हो जाना भी इसका संकेत है। असहनीय दर्द की स्थिति में डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

याद्दाश्त या सोच में बदलाव- ट्यूमर किसी व्यक्ति के व्यवहार या व्यक्तित्व में बड़े बदलाव का कारण बन सकते है। ट्यूमर वाले लोगों में चीजों को याद रखने में परेशानी होती है और वे हमेशा उलझन महसूस करते हैं।

उल्टी या मतली आना- पेट में बेचैनी या बीमार महसूस करना, खासकर अगर वे लक्षण लगातार हैं, तो यह ट्यूमर का संकेत हो सकता है। तेज दर्द और इसके साथ उल्टी आना भी ब्रेन ट्यूमर का शुरुआती लक्षण हैं।

दृष्टि बदल जाती है- धुंधली दृष्टि, दोहरी दृष्टि और दृष्टि की हानि, सभी ट्यूमर से जुड़े हैं। चीजों को देखने पर धब्बे या आकार भी देख सकते हैं। रंगों को पहचानने में परेशानी हो सकती है। यह ब्रेन ट्यूमर की शुरुआत है।

दौरे पड़ना है शुरुआती लक्षण- किसी भी तरह का ट्यूमर हो, दौरे अक्सर समस्या के शुरुआती लक्षणों में से एक होते हैं। ट्यूमर से जलन मस्तिष्क के न्यूरॉन्स को बेकाबू करते हैं और असामान्य हलचलें महसूस होती है। ट्यूमर की तरह, दौरे कई रूप लेते हैं। ब्रेन ट्यूमर होने पर मांसपेशियों में ऐंठन महसूस हो सकती है। ये ऐंठन बेहोशी की हालत तक भी पहुंचा सकती है।

सुन्न होना- शरीर या चेहरे के एक हिस्से में सुन्न महसूस होता है। विशेष रूप से अगर एक ट्यूमर मस्तिष्क के स्टेम पर बनता है। यह वह स्थान है, जहां मस्तिष्क रीढ़ की हड्डी से जुड़ता है।

संतुलन खोना-

अगर व्यक्ति खुद चाभियों को उठाने से लड़खड़ाता है। चलते हुए कदम छूट जाते हैं या संतुलन के साथ संघर्ष करना पड़ रहा है, भुजाओं, पैरों या हाथों में अकड़न हो, तो इस तरह की परेशानी ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो सकती है। बोलने, निगलने या चेहरे के भावों को नियंत्रित करने में समस्याएं हैं तो यह बड़ी समस्या है।

ब्रेन ट्यूमर क्या होता है?

ये बात तो सभी जानते हैं कि, इंसान का ब्रेन सेल्स से बना होता है। लेकिन किसी कारणवश जब सेल्स का कंट्रोल बिगड़ने लगता है तो धीरे-धीरे ये सेल्स खत्म होने लगते हैं। जब ब्रेन में अनियंत्रित सेल्स फैलने लगते हैं तो धीरे-धीरे ये सेल्स कैंसर का रूप ले लेते हैं। इसके बाद से कई तरह की बीमारियां पनपने लगती हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it