Breaking News
Home > Archived > लोकसभा, राज्य सभा में कोकोकोला और पेप्सी पर रोक, फिर आमजन को क्यों पिला रहे हो जहर?

लोकसभा, राज्य सभा में कोकोकोला और पेप्सी पर रोक, फिर आमजन को क्यों पिला रहे हो जहर?

 Special News Coverage |  2 April 2016 10:39 AM GMT

लोकसभा, राज्य सभा में कोकोकोला और पेप्सी पर रोक, फिर आमजन को क्यों पिला रहे हो जहर?


नई दिल्ली
जिसे आप अमृत समझ कर पी रहे है वह सिर्फ एक ज़ेहर इसको सेवन न करे इसका खुलासा प्रसिद्ध आरटीआई एक्टिविस्ट दानिश खान के द्वारा संसद भवन से मांगी गई आरटीआई से हुआ है।


जिसमे साफ लिखा है भारत की सांसद भवन में पेप्सी कोकोकोला की बिक्री पर प्रतिबंध है भारत के जाने माने प्रसिद्ध आरटीआई एक्टिविस्ट मॉडल कॉलोनी नादर बाग़ रामपुर निवासी दानिश खान द्वारा सुचना का अधिकार अधिनियम के तहत भारत की सांसद भवन के जनसूचना अधिकारी से सुचना मांगी थी जिसमे बिंदु न0 2 का जवाब था लोकसभा और राज्य सभा में कोकोकोला और पेप्सी पर रोक क्यों लगाई गई ?





जिसका जवाब था की 06/08/2003 से संसद भवन परिसर में स्थित खानपान एकको में शीतल पेयों/पेयों आदि के सभी ब्रांडो की आपूर्ति बिक्री नही की जाती हैं।

क्योंकि संसद भवन परिसर में खाद्य प्रबंधन संबधी संयुक्त समिति ने संसद भवन परिसर में इन पदार्थों की बिक्री पर रोक लगाने संबंधी निर्णय लिया था।



दानिश खान का कहना है की इन पदार्थो पर रोक इस लिए है की इनमे ज़ेहर जेसे पदार्थ पाये जाते है जो मानव जीवन के लिए हानिकारक हैं। साथ ही उन्होंने इस प्रकरण को लेकर अथवा इसकी बिक्री पर रोक लगाने के सम्बन्ध में कोर्ट में याचिका करने को कहा है। दानिश खान ने कहा की जब इस पर भारत के लोकतन्त्र के सबसे बड़े मंदिर में इस पर रोक है तो इसको आम जन के लिए भी इसकी बिक्री पर सम्पूर्ण तारीखे से प्रतिबंध होना चाहिए जिसको लेकर में कोर्ट जाऊंगा और सभी साक्ष्य प्रस्तुत करूँगा ताकि भारत में इसकी बिक्री पर रोक लगे सके ।

12910719_688760881226448_1325407874_n

साथ ही उन्होंने कहा की जनता को भी इसकी बिक्री पर रोक लगाने के सम्बन्ध में उचित कदम उठाने चाहि कोकोकोला और पेप्सी पर रीसर्च आप आपने घर में भी कर सकते एक बॉटल उक्त सॉफ्ट ड्रिंक लेकर उसमे थोडा मिल्क मिला कर रख दे। तो कुछ ही घंटो में पेप्सी और कोकोकोला जेसे पदार्थ टॉयलेट क्लीनर के रूप में आपको साफ़ नज़र आएगा और साथ ही दानिश खान का कहना ही की कोल्ड ड्रिंक्स के हेल्थ पर खराब असर को लेकर चर्चा कोई नई बात नहीं है। अब यह बात सामने आ रही हैं कि कोका-कोला और पेप्सी में इस्तेमाल होने वाला तत्व की वजह से कैंसर तक हो सकता है। हेल्थ के क्षेत्र में काम करने वाली पावरफुल लॉबी को इसे तुरंत बैन करने की मांग करना चाहिए।
12910833_688764894559380_945886374_n


ब्रिटिश टैब्लॉइड 'डेली मेल' के मुताबिक, रिसर्चरों का मानना है कि कोल्ड ड्रिंक्स में भूरा रंग लाने के लिए इस्तेमाल होने वाले कलरिं एजेंट की वजह से हजारों लोगों को कैंसर हो सकता है। वॉशिंगटन डीसी के सेंटर फॉर साइंस इन द पब्लिक इंटरेस्ट (सीएसपीआई) ने कहा, 'कोका-कोला, पेप्सी और बाकी चीजों में इस्तेमाल किए जाने वाले दो केमिकल कैंसर पैदा कर सकते हैं और इन्हें बैन किया जाना चाहिए।'


कोल्ड ड्रिंक्स और बाकी चीजों में भूरा रंग लाने के लिए चीनी को अमोनिया और सल्फाइट के साथ उच्च दबाव और तापमान पर मिलाया जाता है। इस केमिकल रिऐक्शन में दो तत्व 2-एमआई और 4-एमआई बनते हैं। सरकारी स्टडी यह बात पता चली है कि ये तत्व चूहों के फेफड़े, लीवर और थायरॉइड कैंसर का कारण बने हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top