Top
Home > Archived > जानिए, क्यों सुहागरात पर दूध पिलाने की है परंपरा

जानिए, क्यों सुहागरात पर दूध पिलाने की है परंपरा

 Special News Coverage |  24 Jan 2016 10:35 AM GMT

Milk on Suhagraat


शादी करना एक बड़ी ही शुभ घटना मानी जाती है, जिसमें दो आत्‍माओं का मिलन होता है। शादी की पहली रात को सुहागरात बोलते हैं, जिसमें पति पत्‍नी दोनों एक हो जाते हैं। शादी की पहली रात यानी सुहागरात की इस रात को यादगार बनाने के लिये दुल्‍हे के परिवार वाले दुल्‍हन को दूध और केसर से भरा गिलास दुल्‍हे को देने के लिये कहते हैं।

दरअसल, हमारे भारत देश में शादी की पहली रात से जुड़ी एक परंपरा है। जो ना जाने कितनी ही सदियों से चली आ रही है। इस दूध को कुछ खास तरीके से तैयार किया जाता है जिसमें चीनी के साथ-साथ कुछ और चीजें भी मिली होती है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि इस परंपरा के पीछे क्या कारण होगा। नहीं ना, लेकिन आज हम आपको बताते हैं कि आखिर क्यों नई नवेली दूल्हन शादी की पहली रात को अपने पति को दूध का गिलास क्यों देती है।


सुहागरात पर दिए जाने वाले दूध के फायदे : -
शादी की गोल्डन नाइट की कहानी जितनी खास होती है। बता दें कि उसमें दूल्हे को पिलाए जाने वाला दूध भी उतना ही खास होता है। इस दूध में केसर, हल्दी, चीनी,काली मिर्च, बादाम और सौंफ मिलाई जाती है। इन सब चीजों को मिलाकर दूध को अच्छी तरह से उबाला जाता है और फिर गुनगुना दूध दूल्हे को दिया जाता है।

1. सेक्स की इच्छा को बढ़ाता है दूध :
जैसा हमने बताया की शादी की पहली रात को दूल्हे को दिए जाने वाले खास दूध में काली मिर्च से लेकर बादाम तक मिले हुए होते हैं। लेकिन जब इन सब चीजों के साथ दूध को अच्छे से उबाला जाता है तो इनमे से कुछ ऐसे तत्व निकलते हैं, जो सेक्स की इच्छा को बढ़ाते हैं। इसके साथ ही इसकी मदद से पुरूष बेहतर ऑर्गेन्ज्म भी हासिल कर पाते है। साथ ही रोज इस तरह का दूध पीने से लिबीबो, स्पर्म काउंट और मोटिलिटी में भी इजाफा होता है।

2. इम्‍यूनिटी और पाचन बढ़ाए :
आयुर्वेद के अनुसार दूध शरीर के प्रजनन ऊतकों को ऊर्जा देता है। साथ ही दूध दिमाग तेज बनाता है, शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाता है और पाचन क्रिया दुरुस्‍त रखता है और शरीर दृारा शोषित हो जाता है जिससे रात को आप अच्‍छा परफार्म कर सकें।

3.नजदीकी बढ़ाता है :
बता दें कि जब दूल्हन अपने जीवन साथी, अपने पति को अपने मेंहदी लगे हाथों से गर्म दूध का गिलास पकड़ाती है तो उनके बीच नजदीकीयों की शुरूआत उसी पल से हो जाती है। ऐसे में ये नजदीकी तब और ज्यादा बढ़ जाती है जब इस दूध को दोनों मिलकर पीते हैं। इससे दोनों के बीच की घबराहट और हिचकिचाहट भी कम होती है साथ ही साथ रिश्तों की गर्माहट भी महसूस होने लगती है।

4.रिलेक्स और खुश करता है :
अब वक्त बदल गया है आजकल शादी से पहले लड़का लड़की आपस में मिल लेते हैं। लेकिन पहले ज्यादातर ऐसा होता था कि दूल्हा और दूल्हन शादी से पहले एक दूसरे से मिले नहीं होते थे। इस वजह से शादी की पहली रात दोनो काफी नर्वस होते था। बताया जाता है की इस दूध को पीने से दूल्हे की नर्वसनेस खत्म हो जाती है और उसमें जोश भी आता है। इसके साथ ही इस दूध में मिले केसर की खुशबू से वो हार्मोन्स अधिक श्रावित होने लगते है जिससे खुशी महसूस होती है। कुल मिलाकर ये खास दूध दूल्हे का मूड को काफी अच्छा कर देता है।

5.जोश और एनर्जी देता है :
जैसा कि आज सब जानते होंगे की हमारे देश में होने वाली शादियों के रीति-रिवाज कितने थकाने वाले होते हैं। दूल्हा बेचारा दो-तीन दिन की रस्मों से इतना थक जाता है की उसे सुहागरात के लिए थोड़े जोश और एनर्जी की जरूरत होती है। ऐसे में चीनी मिले इस स्पेशल दूध से उसमे जोश और एनर्जी आ जाती है।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it