Home > जापान ने भी तैनात किया मिसाइल सिस्टम, हवा में गिरायेगा अब मिसाइल

जापान ने भी तैनात किया मिसाइल सिस्टम, हवा में गिरायेगा अब मिसाइल

मंगलवार को जापान होक्काइडो द्वीप पर नई मिसाइल भेदी प्रणाली तैनात की गई है। उत्तर कोरिया द्वारा दो मिसाइलों के परीक्षण करने के बाद जापान ने ये कदम उठाया है।

 आनंद शुक्ल |  2017-09-19 12:48:10.0  |  नई दिल्ली

जापान ने भी तैनात किया मिसाइल सिस्टम, हवा में गिरायेगा अब मिसाइल

मंगलवार को जापान होक्काइडो द्वीप पर नई मिसाइल भेदी प्रणाली तैनात की गई है। उत्तर कोरिया द्वारा दो मिसाइलों के परीक्षण करने के बाद जापान ने ये कदम उठाया है। हाल ही में उत्तर कोरिया ने ये मिसाइले जापान के ऊपर से गुजारी थीं।

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि पेट्रिअट एडवांस्ड कैपेबिलिटी-3(पीएसी-3) इंटरसेप्टर को हाकोदाते शहर में स्थित एक सैन्य ठिकाने पर तैनात करने का फैसला उत्तर कोरिया की ओर से 15 सितंबर को किए गए मध्यम दूरी के मिसाइल परीक्षण के बाद लिया गया है। यह मिसाइल उत्तरी जापान के ऊपर से गुजरते हुए प्रशांत महासागर में गिरा था। इससे पहले 29 अगस्त को भी उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षण किया था, जिसने उत्तरी जापान के ऊपर से उड़ान भरी थी।
प्योंगयांग ने अमेरिकी प्रतिबंधों का समर्थन करने के लिए जापान पर परमाणु बम से हमला करने की धमकी दी थी। अधिकारी ने कहा कि जापान एक और मिसाइल परीक्षण के संबंध में उत्तर कोरिया की गतिविधियों पर नजर रखे हुए है।
इस समय जापान के पास दो दौर के मिसाइल सिस्टम हैं। पहला, स्टैंडर्ड मिसाइल-3 इंटरसेप्टर जापान के समुद्र में मिसाइल को बीच रास्ते में ही गिरा देगा। अगर किसी वजह से यह नाकाम हो जाता है तो पीएसी-3 सतह से हवा में मार कर दुश्मन के मिसाइल को तबाह कर देगा। जापान के संविधान में भी आत्मरक्षा के लिए हथियारों का इस्तेमाल करना की परमिशन दी गई है, खासकर तब जब यह खतरा जापान की ओर बढ़ रहा हो।
नॉर्थ कोरिया ने पिछले हफ्ते जापान को समुद्र में डुबोने की धमकी दी है। उसने कहा था कि वो वह पूर्ण परमाणु शस्त्रागार विकसित कर कट्टर दुश्मन अमेरिका के साथ सैन्य संतुलन बनाना चाहता है।

Tags:    
Share it
Top