Home > भारत की मांग, रोहिंग्या मुसलमानो की सामूहिक हत्या के दोषियों को दंडित किया जाये

भारत की मांग, रोहिंग्या मुसलमानो की सामूहिक हत्या के दोषियों को दंडित किया जाये

 Majid Khan |  2017-10-24 07:15:08.0  |  रोहिंग्या

भारत की मांग, रोहिंग्या मुसलमानो की सामूहिक हत्या के दोषियों को दंडित किया जाये

रोहिंग्या मुसलमानों की सामूहिक कब्र बरामद होने पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. म्यांमार के राखीन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों की एक सामूहिक कब्र मिली है जिस पर भारत ने प्रतिक्रिया जताते हुए दोषियों को दंडित किये जाने की मांग की है।

भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता राजीव कुमार ने समस्त रूपों में आतंकवाद की भर्त्सना की और म्यांमार में हिंसा के तुरंत बंद होने और दोषियों को दंडित किये जाने की मांग की। पिछले कुछ दिनों के दौरान म्यांमार की सरकार ने अंतरराष्ट्रीय दबाव में आकर मानवाधिकार संगठनों को राखीन प्रांत जाने की अनुमति दे दी जिसके बाद म्यांमार की सेना एक सामूहिक कब्र के रहस्योदघाटन पर विवश हुई।

इस सामूहिक कब्र से 20 महिलाओं और 8 मुसलमानों पुरुषों के शव बरामद हुए। घोषित आंकड़ों के अनुसार गत 25 अगस्त से म्यांमार के राखीन प्रांत में दोबारा आरंभ होने वाली हिंसा में 6 हज़ार से अधिक मुसलमान मारे गये जबकि आठ हज़ार से अधिक मुसलमान घायल हो गये।

सूत्रों के अनुसार मुसलमानों की हत्या में अतिवादी बौद्धों और इस देश के सैनिकों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। भारत म्यांमार में मारे गये कुछ रोहिंग्या मुसलमानों की सामूहिक कब्र बरामद होने पर प्रतिक्रिया एसी स्थिति में जता रहा है जब उसने रोहिंग्या मुसलमानों के संबंध में विचार योग्य दृष्टिकोण अपनाया है।

भारत ने रोहिंग्या मुसलमानों को इस देश से निकाल देने की बात करके दर्शा दिया है कि वह रोहिंग्या मुसलमानों के संबंध में म्यांमार की सरकार जैसा दृष्टिकोण रखता है। भारत सरकार ने रोहिंग्या मुसलमानों को निकालने का जो फैसला किया है उस पर स्वयं इस देश में, संयुक्त राष्ट्रसंष और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठनों की ओर से भारी प्रतिक्रिया जताई गयी है।

राजनीतिक टीकाकारों का मानना है कि म्यांमार के राखीन प्रांत में रोहिंग्या मुसलमानों की सामूहिक कब्र पर भारत ने जो प्रतिक्रिया दिखाई है उसका लक्ष्य रोहिंग्या मुसलमानों को भारत से निकालने के फैसले के बाद नई दिल्ली की जो आलोचना की गयी है उसे कम करना है।

Tags:    
Share it
Top