Home > नेपाल में ओली इम्पैक्ट चला? प्रचंड के साथ बन सकती है मिली जुली सरकार!

नेपाल में ओली इम्पैक्ट चला? प्रचंड के साथ बन सकती है मिली जुली सरकार!

दिल्ली

 शिव कुमार मिश्र |  2017-12-10 10:25:28.0  |  दिल्ली

नेपाल में ओली इम्पैक्ट चला? प्रचंड के साथ बन सकती है मिली जुली सरकार!

नेपाल में वामपंथी गठबंधन संसदीय चुनाव में बहुमत की ओर तेजी से बढ़ रहा है। अब तक घोषित हुए 89 सीटों के परिणाम में से 72 सीट पर वामपंथी गठबंधन जीत दर्ज कर चुकी है। इस ऐतिहासिक चुनाव से कई लोगों को देश में राजनीतिक स्थिरता आने की उम्मीद है।


पूर्व प्रधानमंत्री के पी ओली के नेतृत्व वाली नेकपा-एमाले और पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड के नेतृत्व वाली नेकपा माओवादी ने प्रांतीय और संसदीय चुनावों के लिए गठबंधन बनाया था। लोगों को उम्मीद है कि इस चुनाव के नतीजे से हिमालय की गोद में बसे नेपाल में राजनीतिक स्थिरता आएगी।



चुनाव आयोग से जारी परिणाम के अनुसार नेकपा-एमाले ने 51 सीटें जीती हैं जबकि उसके सहयोगी नेकपा-माओवादी केन्द्र ने 21 सीटों पर जीत दर्ज की है। पिछले चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने वाली सत्तारूढ़ नेपाली कांग्रेस को सिर्फ 10 सीटें मिली हैं। दो मधेसी पार्टियों को दो सीटों पर जीत हासिल हुई है।

पूर्व प्रधानमंत्री बाबूराम भट्टाराई के नेतृत्व वाली नया शक्ति पार्टी ने एक सीट पर जीत दर्ज की है। वहीं एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार को जीत मिली है। बची हुए 76 सीटों के लिए मतों की गणना चल रही है।

आपको बता दें कि दो चरणों वाले संसदीय एवं विधानसभा चुनावों की वोटिंग 26 नवंबर और 7 दिसंबर को हुए थे। इस चुनाव के तहत संसद के 128 और विधानसभाओं के कुल 256 सदस्य चुने जाने हैं। प्रतिनिधि सभा में 275 सदस्य होते हैं जिनमें से 165 फर्स्ट पास्ट दा पोस्ट प्रणाली के जरिए चुने जाएंगे जबकि शेष 110 आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली के जरिए आएंगे। फर्स्ट पास्ट दा पोस्ट प्रणाली के तहत किसी सीट पर सबसे ज्यादा वोट पाने वाले उम्मीदवार को विजयी घोषित किया जाता है।

Tags:    
Share it
Top