Home > पनामा पेपर्स केस में बढ़ी नवाज शरीफ की मुश्किलें, कोर्ट ने और गवाह पेश करने को कहा

पनामा पेपर्स केस में बढ़ी नवाज शरीफ की मुश्किलें, कोर्ट ने और गवाह पेश करने को कहा

पनामा पेपर्स केस मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की मुश्किलें बढ़ गयी है। मंगलवार को भ्रष्टाचार निरोधक अदालत ने पनामा पेपर्स से संबंधित भ्रष्टाचार के मामलों में...

 Vikas Kumar |  2018-01-23 13:01:48.0  |  नई दिल्ली

पनामा पेपर्स केस में बढ़ी नवाज शरीफ की मुश्किलें, कोर्ट ने और गवाह पेश करने को कहा

नई दिल्ली: पनामा पेपर्स केस मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की मुश्किलें बढ़ गयी है। मंगलवार को भ्रष्टाचार निरोधक अदालत ने पनामा पेपर्स से संबंधित भ्रष्टाचार के मामलों में राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (NAB) को नवाज शरीफ के खिलाफ और गवाह पेश करने का आदेश दिया।

इससे पहले सोमवार को राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने लंदन में संपत्तियों को लेकर शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ एक सप्लिमेंटरी मामला दायर किया था। पनामा पेपर्स घोटाले की जांच के दौरान इन संपत्तियों का पता चला था।

पाकिस्तान के 68 साल के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ 14वीं बार इस्लामाबाद की NAB अदालत में पेश हुए थे, जहां उनके व परिवार के खिलाफ तीन मामलों में सुनवाई चल रही है। उनके साथ उनकी बेटी और दामाद मोहम्मद सफदर भी पेश हुए थे। दोनों तीन में से एक मामले में सह-आरोपी हैं।

गौरतलब है कि पनामा पेपर्स मामले में पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा शरीफ को प्रधानमंत्री पद के अयोग्य ठहराने के बाद उन्हें पद छोड़ना पड़ा था। सुनवाई के दौरान एनएबी द्वारा पेश किए गए कम से कम दो और गवाहों ने अपने बयान दर्ज कराए।

रिपोर्ट के अनुसार तीसरा गवाह मंगलवार को बयान दर्ज नहीं करा पाया। इसके बाद सुनवाई 30 जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी गई। सुनवाई के दौरान अदालत ने एनएबी को और गवाह पेश करने को कहा है।

Tags:    
Share it
Top