Top
Home > अंतर्राष्ट्रीय > कोरोना वायरस : पाकिस्तान में भी तब्लीगी जमात की आलोचना, जमात से जुड़े 400 से ज्यादा लोग संक्रमित

कोरोना वायरस : पाकिस्तान में भी तब्लीगी जमात की आलोचना, जमात से जुड़े 400 से ज्यादा लोग संक्रमित

तब्लीगी जमात के मरकजियों की वजह से भारत ही नहीं पाकिस्तान में भी कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है

 Arun Mishra |  9 April 2020 4:43 AM GMT  |  दिल्ली

कोरोना वायरस : पाकिस्तान में भी तब्लीगी जमात की आलोचना, जमात से जुड़े 400 से ज्यादा लोग संक्रमित

तब्लीगी जमात के मरकजियों की वजह से भारत ही नहीं पाकिस्तान में भी कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच जमात पिछले महीने रायविंड मरकज में अपनी वार्षिक सामूहिक सभा का आयोजन करने को लेकर आलोचना झेल रहा है।

डॉन की एक रिपोर्ट के अनुसार जमात ने पंजाब प्रांत सरकार के कड़े विरोध के बावजूद अपनी वार्षिक सामूहिक सभा का आयोजन किया था। पंजाब प्रांत की विशेष शाखा का कहना है कि संगठन के लगभग 70,000 से 80,000 सदस्य 10 मार्च को सभा में भाग लेने के लिए इकट्ठा हुए थे। जमात के प्रबंधन दावा कर रहे हैं कि उसके वार्षिक आयोजन में ढाई लाख से अधिक लोगों ने भाग लिया था।

इस सभा में 3,000 लोग शामिल थे जो 40 देशों से आए थे लेकिन वापस नहीं जा सके क्योंकि पाकिस्तान ने महामारी के बढ़ते प्रकोप की वजह से सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है। जमात की भारत और मलयेशिया में काफी आलोचना हुई है क्योंकि इसके कई सदस्य कोरोना पॉजिटिव थे जिससे देश में संक्रमितों की संख्या बढ़ गई है।

पाकिस्तान में अब तक कोरोना के चार हजार से ज्यादा संक्रमित मामले सामने आ चुके है जबकि 60 लोगों की मौत हो गई है। वायरस पहले ही कई देशों को बुरी तरह अपनी चपेट में ले चुका है। पाकिस्तान में पिछले महीने से इसका प्रसार बढ़ा है। रिपोर्ट में बताया गया है कि जमात के कई सौ सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद लगभग दो लाख की आबादी वाले रायविंड शहर को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

पिछले महीने सभा में भाग लेने वाले लगभग 10,263 लोगों को क्वारंटाइन (एकांतवास) किया गया है वहीं 36 जिलों में अन्य प्रतिभागियों की तलाश की जा रही है। तबलीगी जमात के 539 सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, इसमें से रायविंड मरकज में सबसे ज्यादा 404 मामले सामने आए हैं।

जमात ने निर्देशों की अनदेखी करना जारी रखा। जिसकी वजह से प्रशासनिक अधिकारियों ने संगठन के शीर्ष अधिकारियों के साथ कई दौर की बैठकें की और छह-दिवसीय आयोजन को छोटा करके तीन दिनों का कर दिया।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it