Home > राज्य > जम्मू कश्मीर > J&K : सेना को मिली बड़ी कामयाबी, ISJK कमांडर इशफाक सोफी को एनकाउंटर में किया ढेर

J&K : सेना को मिली बड़ी कामयाबी, ISJK कमांडर इशफाक सोफी को एनकाउंटर में किया ढेर

जाकिर मूसा के अलावा इशफाक अहमद सोफी कश्मीर में आईएसजेके का बड़ा कमांडर था. जाकिर मूसा अभी भी सुरक्षाबलों की पकड़ से दूर है.

 Special Coverage News |  10 May 2019 3:57 AM GMT  |  दिल्ली

J&K : सेना को मिली बड़ी कामयाबी, ISJK कमांडर इशफाक सोफी को एनकाउंटर में किया ढेर

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षा बलों ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट जम्मू एंड कश्मीर (आईएसजेके) के कमांडर इशफाक अहमद सोफी को ढेर कर दिया है. जाकिर मूसा के अलावा इशफाक अहमद सोफी कश्मीर में आईएसजेके का बड़ा कमांडर था. जाकिर मूसा अभी भी सुरक्षाबलों की पकड़ से दूर है. पिछले दिनों उसके पंजाब में छुपे होने की खुफिया रिपोर्ट आई थी.

इशफाक अहमद सोफी जम्मू-कश्मीर के सोपोर का रहने वाला था. उसको एनकाउंटर के दौरान जम्मू-कश्मीर के शोपियां में मार गिराया गया. आईएसजेके आतंकी इशफाक अहमद सोफी को अब्दुल्ला भाई के नाम से भी जाना जाता था. उसके पास से आर्म्स और एम्युनिशन बरामद हुए हैं. वहीं, आतंकी इशफाक अहमद सोफी के मारे जाने के बाद सोपोर के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर ने इलाके के सभी स्कूल और कॉलेजों को बंद करने का फरमान जारी कर दिया है.



सूत्रों के मुताबिक सोपोर के अमशिपोरा में शुक्रवार तड़के सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ के दौरान मारा गया. इशफाक अहमद सोफी कश्मीर में आतंकी संगठन आईएसजेके का बड़ा कमांडर था. वह साल 2015 में हरकत-उल-मुजाहिदीन आतंकी संगठन से जुड़ा था. इसके बाद साल 2016 में वह हरकत-उल-मुजाहिदीन को छोड़कर आईएसजेके आतंकी संगठन में शामिल हो गया था.

इससे पहले सुरक्षाबलों ने शोपियां जिले के इमाम साहब गांव में मुठभेड़ के दौरान बुरहान वानी गैंग के आखिरी कमांडर लतीफ टाइगर को ढेर कर दिया था. हिजबुल कमांडर लतीफ अपने 2 अन्य आतंकियों के साथ एक इमारत में छिपा था, तभी सुरक्षा बलों ने धावा बोले दिया. इस दौरान आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई, जिसमें आतंकी लतीफ टाइगर समेत दो आतंकी मारे गए. इस दौरान एक जवान भी जख्मी हो गया.

सुरक्षा बलों ने यह कार्रवाई खुफिया जानकारी मिलने के बाद की थी. इससे भी पहले 25 अप्रैल को सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के बिजबेहारा कस्बे में दो आतंकियों को ढेर किया था. सेना की 3 आरआर और एसओजी की संयुक्त टीम ने खुफिया जानकारी मिलने के बाद तलाशी अभियान शुरू किया था. इस दौरान आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच जमकर गोलीबारी हुई थी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top