Top
Begin typing your search...

बड़ा खुलासा: नगरोटा एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों को पाक से मसूद अजहर का भाई दे रहा था निर्देश- सूत्र

जांच एजेंसियों ने बताया कि जिस समय आतंकियों का एनकाउंटर किया गया उस वक्त भी रऊफ लाला इन सभी आतंकियों को निर्देश दे रहा था.

बड़ा खुलासा: नगरोटा एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों को पाक से मसूद अजहर का भाई दे रहा था निर्देश- सूत्र
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नगरोटा. जम्मू के नगरोटा (Nagrota) में गुरुवार को हुए एनकाउंटर (Encounter) में मारे गए जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के चारों आतंकी पाकिस्तानी (Pakistan) थे. खुफिया एजेंसियों के मुताबिक ये सभी आतंकी (terrorist) डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट काउंसिल (DDC) के चुनाव के दौरान बड़े हमले के मकसद से भेजे गए थे और पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे जैश सरगना मसूद अजहर (Masood Azhar) के भाई रऊफ लाला से लगातार संपर्क में थे. जांच एजेंसियों ने बताया कि जिस समय आतंकियों का एनकाउंटर किया गया उस वक्त भी रऊफ लाला इन सभी आतंकियों को निर्देश दे रहा था.

जांच एजेंसियों को इस बात के अब पुख्ता सबूत हाथ लग गए हैं कि जैश के इन आतंकियों को पाकिस्तान से भेजा गया था और वहीं से उन्हें निर्देश भी दिए जा रहे थे. जांच एजेसी को आतंकियों के पास से पाकिस्तान की एक कंपनी का डिजिटल मोबाइल रेडियो (DMR) बरामद हुआ है. यही नहीं आतंकियों के पास से जो मोबाइल मिले हैं, उसके मैसेज देखने के बाद साफ हो जाता है कि आतंकी लगातार पाकिस्तान में बैठे आकाओं के संपर्क में थे. एजेंसी को शक है कि ये मैसेज पाकिस्तान के शकरदढ़ से भेजे गए हैं.

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक डिजिटल मोबाइल रेडियो को पाकिस्तान की कंपनी माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक्स बनाती है. इन मैसेज को देखने के बाद ये साफ हो गया है कि पाकिस्तान एक बार फिर भारत में ​बड़ी आतंकी साजिश को रचने की फिराक में था. इसके साथ ही जांच एजेंसियों को आतंकियों के जो जूते मिले हैं वो भी पाकिस्तान के कराची में बनाए गए हैं. इसके साथ ही एक वायरलेस सेट और एक जीपीएस डिवाइस भी बरामद हुई है जिसकी जांच में पता चला है कि ये सभी ​डिवाइस पाकिस्तान से ही ली गई हैं.

कुछ दिन पहले ही शक्करगढ़ में दिखा था रऊफ लाला

खुफिया जानकारी के मुताबिक रऊफ लाला कुछ दिन पहले ही जम्मू के सांबा और हीरानगर सेक्टर के उस पार पाकिस्तान के शक्करगढ़ में देखा गया था. 31 जनवरी को भी रऊफ लाला ने इसी तरह आतंकियों की घुसपैठ की साजिश रची थे लेकिन सुरक्षाबलों ने बन टोल प्लाजा के पास उन्हें घेरकर मार गिराया था.

आतंकियों के पास से 11 एके 47 राइफल हुईं थी बरामद

मारे गए जैश के आतंकियों के पास से 11 एके 47 राइफल, 29 हैंड ग्रेनेड और तीन पिस्टल बरामद हुईं हैं. इसके अलावा कई और सामान भी मिला है.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it