Top
Home > राज्य > झारखंड > जमशेदपुर > अवैध संबंध में हत्या? महिला ने बॉयफ्रेंड संग की पति की हत्या, लाश को ठिकाने लगाने से पहले फ्रिज में रखा

अवैध संबंध में हत्या? महिला ने बॉयफ्रेंड संग की पति की हत्या, लाश को ठिकाने लगाने से पहले फ्रिज में रखा

पुलिस का कहना है कि तपन की हत्या अवैध संबंध के कारण की गई है?

 Special Coverage News |  22 Jan 2019 5:41 AM GMT  |  दिल्ली

अवैध संबंध में हत्या? महिला ने बॉयफ्रेंड संग की पति की हत्या, लाश को ठिकाने लगाने से पहले फ्रिज में रखा
x

झारखण्ड : जमशेदपुर पुलिस ने शनिवार को एक महिला, उसके प्रेमी और एक अन्य व्यक्ति को शहर के ही एक प्रॉपर्टी डीलर की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि तपन की हत्या अवैध संबंध के कारण की गई है। तपन और उसकी पत्नी स्वेता दास के बीच लगातार झगड़े हुआ करते थे। 12 जनवरी को लापता होने की सूचना मिलने के बाद गुरुवार रात को तपन का शव बाराबंकी इलाके से बरामद किया गया था।

शहर के डीएसपी अनुदीप सिंह के नेतृत्व में एक विशेष टीम ने दो दिनों के भीतर मामले को सुलझाया और तपन की पत्नी स्वेता, उसके प्रेमी सुमित सिंह और उसके सहयोगी सोनू लाल को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने तपन की हत्या करना और उसके शरीर को ठिकाने लगाने की बात कबूल की है। पूछताछ के दौरान, उन्होंने खुलासा किया कि उन्होंने मृतक के शरीर को एक रेफ्रिजरेटर में रखा था और बाद में 13 जनवरी को रेफ्रिजरेटर के साथ बाराबंकी में फेंक दिया,

अनूप बिरथरे, जमशेदपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) ने कहा कि गिरफ्तार अभियुक्त ने बताया कि 12 जनवरी को तपन शराब पीकर घर लौटा और स्वेता के साथ झगड़ा करने लगा। इसी झगड़े के बाद उसकी हत्या की गई। बिरथरे ने बताया कि स्वेता ने अपने प्रेमी सुमित को फोन किया और उसे अपने फ्लैट में आने के लिए कहा। सुमित सोनू लाल के साथ आया और तीनों ने तपन की गला दबाकर हत्या कर दी। उन्होंने तपन के शरीर को एक रेफ्रिजरेटर में रखा और बाद में एक ऑटो-रिक्शा में बाराबंकी में रेफ्रिजरेटर ले गए। उन्होंने तपन के मृत शरीर को एक झाड़ी वाले इलाके में फेंक दिया और रेफ्रिजरेटर को कही और फेंक दिया।

डीएसपी अनुदीप सिंह ने कहा कि तपन दास और स्वेता की एक आठ साल की बेटी है और वे तपन की शराब पीने की आदत पर अक्सर झगड़े हो जाते थे। सिंह ने बताया कि स्वेता की करीब तीन महीने पहले फेसबुक पर सुमित सिंह से दोस्ती हुई थी। स्वेता ने सुमित को फोन कर बुलाया। तपन की हत्या के बाद शव को अभिषेक राजू उर्फ ​​अन्ना द्वारा लाए गए ऑटो रिक्शा से ले जाया गया। अन्ना को दबोचने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। सीसीटीवी फुटेज में दिखा कि सुमित और सोनू ने 12 जनवरी की शाम को स्वेता के फ्लैट में प्रवेश किया और अगली सुबह बाहर आए।

पुलिस ने इस मामले में तीन मोबाइल फोन, एक मोटरसाइकिल और सीसीटीवी फुटेज को जब्त कर लिया है। साथ ही कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स निकाले गए हैं, जो आरोपियों के बीच लगातार कॉल की पुष्टि करते हैं। स्वेता ने पहले पुलिस को बताया था कि तपन ने 12 जनवरी को घर आने के बाद 1.50 लाख रुपये छोड़ दिए थे। उसने पुलिस जांच को गुमराह करने के लिए 15 जनवरी को टेल्को पुलिस स्टेशन में एक गुमशुदगी की शिकायत भी दर्ज कराई थी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it