Top
Begin typing your search...

दो बच्चियों की दुष्कर्म के बाद हत्या, फल खिलाने के बहाने जंगल ले गया था आरोपी

दो बच्चियों की दुष्कर्म के बाद हत्या, फल खिलाने के बहाने जंगल ले गया था आरोपी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रांची. झारखंड के पिपरवार इलाके में 10 और 12 साल की दाे बच्चियाें की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। आठ साल का एक बच्चा गंभीर रूप से घायल है। उसे रिम्स में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने उसी गांव के साेनू माेची काे गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ याैन उत्पीड़न और हत्या का केस दर्ज कराया गया है।

बुधवार से लापता थे तीनों बच्चे

साेनू फल खिलाने की बात कहकर तीनाें बच्चों काे जंगल ले गया था। तीनाें बच्चे बुधवार दाेपहर से गायब थे। शाम तक नहीं लाैटे ताे परिजन ने तलाश शुरू की। पुलिस ने भी रात भर तलाशा। गुरुवार तड़के 4 बजे बच्चे की आवाज सुनकर मां और अन्य लाेग वहां पहुंचे। बच्चा खून से लथपथ था। परिजन ने उसे रिम्स में भर्ती कराया। गुरुवार दोपहर बाद ग्रामीणों को दाेनाें बच्चियां भी गंभीर हालत में जंगल में मिलीं। उन्हें अस्पताल ले गए, जहां डाॅक्टराें ने एक बच्ची काे मृत घाेषित कर दिया। दूसरी बच्ची काे रिम्स रैफर किया, जिसने रास्ते में ही दम ताेड़ दिया।

फल खिलाने के बहाने जंगल ले गया था आरोपी

रिम्स में भर्ती घायल बच्चे ने कहा- ''साेनू फल खिलाने की बात कहकर पहले बहन और उसकी सहेली काे जंगल ले गया। कुछ देर बाद मुझे भी ले गया। जब मैंने वहां बहन काे नहीं देखा, ताे साेनू से उसके बारे में पूछा। इस पर मेरी पिटाई शुरू कर दी। जबरन खींचते हुए कुछ दूर ले गया और पत्थर से सिर पर हमला कर दिया। इसके बाद शर्ट से मेरे हाथ बांध दिए और गर्दन काे पेड़ में फंसाकर भाग गया। सुबह आवाज सुनकर मैंने भी आवाज लगाई। तब मां और अन्य लाेग वहां पहुंचे।''

बच्चे ने वाॅट्सएप पर फाेटाे देखकर आराेपी काे पहचाना

पुलिस ने बच्चे काे पांच युवकाें की तस्वीर दिखाई। उसने साेनू काे पहचानते जंगल ले जाने की बात कही। पुलिस ने सोनू के माेबाइल की लाेकेशन ट्रेस करने की काेशिश की ताे वह बंद मिला। कुछ देर बाद जैसे ही माेबाइल ऑन हुआ, पुलिस काे लाेकेशन का पता चल गया और घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

'और आराेपी हाे सकते हैं'

एसडीपीओ आशुताेष कुमार सत्यम ने कहा कि इस घटना में साेनू के साथ एक-दाे और युवक हाे सकते हैं। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। दाे दिनों के भीतर मामले का खुलासा कर पुलिस सभी आराेपियाें काे गिरफ्तार कर लेगी।

Special Coverage News
Next Story
Share it