Top
Breaking News
Home > राज्य > कर्नाटक > बैंगलोर > प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु पहुंचे, इसरो के बेंगलुरु स्थित केंद्र में बैठकर देखेंगे #Chandrayan2 की ऐतिहासिक लैंडिंग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु पहुंचे, इसरो के बेंगलुरु स्थित केंद्र में बैठकर देखेंगे #Chandrayan2 की ऐतिहासिक लैंडिंग

 Special Coverage News |  6 Sep 2019 4:31 PM GMT  |  बेंगलूर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु पहुंचे, इसरो के बेंगलुरु स्थित केंद्र में बैठकर देखेंगे #Chandrayan2 की ऐतिहासिक लैंडिंग

चंद्रयान की लैंडिंग देखने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में पहुँच चुके है. बेंगलुरु के हवाईअड्डे पर मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने स्वागत जाकर उनका स्वागत कर उनकी अगवानी की.

आज देश की नजरें चांद पर हैं. आधी रात करीब डेढ़ बजे अपना चंद्रयान चांद पर कदम रखने जा रहा है. इसरो के हेडक्वॉर्टर में बैठे वैज्ञानिकों से लेकर हर भारतीय रोमांचित है. पीएम मोदी ने देश के लोगों से चांद पर चंद्रयान के उतरने की इस ऐतिहासिक घटना का गवाह बनने की अपील की है.

चंद्रयान 2: लैंडर विक्रम का नाम भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक कहे जाने वाले विक्रम साराभाई के नाम पर रखा गया है.

चंद्रयान 2 की डीटेल्सः चंद्रयान 2 मिशन ऐसी जगह पर जाएगा जहां आज तक कोई नहीं गया है.

अगर आप चंद्रयान 2 की तुलना चंद्रयान 1 से करते हैं तो बुनियादी अंतर यह है कि यहां हम सॉफ्ट लैंडिंग कर रहे हैं. पहली वाली लैंडिंग PSLV से की गई थी और यहां हम GSLV Mk III का इस्तेमाल कर रहे हैं। मतलब यह है कि हमारे पास ज्यादा पैलोड क्षमताएं हैं: नंबी नारायनन, इसरो के पूर्व वैज्ञानिक

पीएम मोदी ने कहा, 'भारत के इस ऐतिहासिक अंतरिक्ष कार्यक्रम को देखने के लिए मैं बहुत उत्साहित हूं और खुशी है कि मैं बेंगलुरु के ISRO सेंटर में मौजूद रहूंगा'

चांद पर चंद्रयान की लैंडिंग से पहले इसरो के वैज्ञानिकों की धड़कनें भी बढ़ी हुई हैं। इस बीच इसरो के चीफ ने बताया है कि मिशन चंद्रयान योजना के मुताबिक ही आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि चंद्रयान के लैंडिंग की प्रक्रिया बिल्कुल सामान्य गति से चल रही है।

इस क्षण का 130 करोड़ भारतीय बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। अब से कुछ घंटों में चंद्रयान 2 के कदम चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर होंगे। भारत और बाकी दुनिया हमारे स्पेस साइंटिस्ट के अनुकरणीय प्रगति की गवाह बनेगी: पीएम नरेंद्र मोदी

देश का यह मिशन सफल होता है तो भारत चांद के साउथ पोल पर पहुंचने वाला दुनिया का पहला देश बन जाएगा। इस हिस्से पर अभी कोई और नहीं पहुंचा है।

इसरो के मुताबिक चंद्रयान 2 विक्रम लैंडर की चंद्रमा के सतह पर लैंडिंग शनिवार सुबह 1.30 से सुबह 2.30 पर निर्धारित की गई है। लैंडिंग के बाद सुबह साढ़े 5 से साढ़े 6 बजे के बीच रोवर रोल आउट करेगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it