Top
Home > राज्य > कर्नाटक > बैंगलोर > Live Update: दिल्‍ली लाए गए कर्नाटक के बागी विधायक, उधर कुमार स्वामी का इस्तीफा वायरल

Live Update: दिल्‍ली लाए गए कर्नाटक के बागी विधायक, उधर कुमार स्वामी का इस्तीफा वायरल

 Special Coverage News |  23 July 2019 4:59 AM GMT  |  बेंगलुरु

Live Update: दिल्‍ली लाए गए कर्नाटक के बागी विधायक, उधर कुमार स्वामी का इस्तीफा वायरल

कर्नाटक के बागी विधायक अब दिल्‍ली लाए गए हैं. इन्‍हें दिल्‍ली में ही किसी गुप्‍त स्‍थान पर रखा गया है. सूत्रों के मुताबिक कुछ विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दायर की है. इससे पहले कर्नाटक कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को मुंबई के पांच सितारा होटल में रखा गया था.

कर्नाटक से अब एक बड़ी खबर सामने आई है जब मुख्यमंत्री कुमार स्वामी का इस्तीफा सोशल मिडिया में वायरल हो गया. यह जानकारी खुद मुख्यमंत्री कुमार स्वामी ने सदन में दी. यह बात सुनकर सब हैरान जरुर हुए. उन्होंने कहा कि आखिर सीएम बनने की जल्दी में कौन?

सीएम एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि मुझे जानकारी मिली कि मैंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. मुझे नहीं पता कि सीएम बनने का इंतजार कौन कर रहा है. और किस ने मेरे हस्ताक्षर जाली किये हैं, सोशल मीडिया पर उसी का प्रसार किया जा रहा है मैं प्रचार के सस्ते स्तर पर हैरान हूं. आखिर यह सब हो क्या रहा है और देश की सभी संस्था इस कृत्य को बड़ी ख़ामोशी से देख रही है. जहाँ कानून की धज्जियां खुले आम उड़ाई जा रही हों.

वहीं कांग्रेस विधायक एचके पाटिल ने विधान सौधा में कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट द्वारा कल फैसला लेने के बाद, फिर विश्वास मत पर बोलना और बहस करना सही होगा. इसके बाद सरकार विश्वास मत पर बात करे तो ज्यादा ठीक होगा.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष के आर रमेश कुमार मंगलवार को सदन को पांच दिन और आगे बढ़ा सकते है. क्योंकि कुछ जरूरी बिल पास होने अत्यावश्यक है. जिसके लिए विधानसभा सदन को 26 जुलाई से 2 अगस्त तक एक सप्ताह के लिए बढ़ाया जाना चाहिए. इसकी कल घोषणा हो सकती है.

बता दें कि कर्नाटक का सियासी नाटक पिछले 21 दिन से जारी है. हर बार नई डेडलाइन दी जाती है, लेकिन एचडी कुमारस्वामी सरकार का फ्लोर टेस्ट नहीं हो पाता. सोमवार को भी देर रात जनता दल सेक्यूलर-कांग्रेस विधायकों के साथ बीजेपी विधायकों का टकराव होता रहा. बीजेपी विधायक विश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग को लेकर अड़े रहे. इसके बाद स्पीकर केआर रमेश कुमार ने सदन को सुबह 10 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया.

स्पीकर ने कुमारस्वामी सरकार को हर हाल में मंगलवार शाम 6 बजे तक बहुमत साबित करने के लिए कहा है. फ्लोर टेस्ट होने तक सदन की कार्यवाही स्थगित नहीं हो पाएगी.

कांग्रेस के 13 और जेडीएस के 3 विधायकों ने दिया इस्तीफा

कर्नाटक सरकार में कांग्रेस के 79 विधायकों में 13 और जेडीएस के 37 विधायकों मे से 3 ने इस्तीफा दे दिया है. इसमें उमेश कामतल्ली, बीसी पाटिल, रमेश जारकिहोली, शिवाराम हेब्बर, एच विश्वनाथ, गोपालैया, बी बस्वराज, नारायण गौड़ा, मुनिरत्ना, एसटी सोमाशेखरा, प्रताप गौड़ा पाटिल, मुनिरत्ना और आनंद सिंह शामिल हैं. वहीं, कांग्रेस के निलंबित विधायक रोशन बेग ने भी इस्तीफा दे दिया है. 10 जून को के सुधाकर, एमटीबी नागराज भी इस्तीफा सौंप चुके हैं.

ये है बहुमत का आंकड़ा

स्पीकर और मनोनीत सदस्यों को मिलाकर सदन की कुल संख्या 225 है. इसमें से 17 सदस्यों के सदन में शामिल नहीं होने की संभावना है. 17 में से 12 कांग्रेस के, 3 जेडी(एस) के विधायक हैं और 2 कांग्रेसी विधायक अस्पताल में भर्ती हैं. इस तरह अब सदन की संख्या 208 रह जाती है. बहुमत साबित करने के लिए 105 वोटों की जरूरत होगी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it