Top
Home > राज्य > कर्नाटक > कर्नाटक में फिर नाटक! बीजेपी विधायकों ने येदियुरप्पा के सामने खड़ा किया नया बखेड़ा

कर्नाटक में फिर नाटक! बीजेपी विधायकों ने येदियुरप्पा के सामने खड़ा किया नया बखेड़ा

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के कम से कम 10-15विधायक राज्य के सीएम बीएस येडियुरप्पा के खिलाफ कथित तौर पर मीटिंग कर रहे हैं.

 Sujeet Kumar Gupta |  18 Feb 2020 7:43 AM GMT  |  नई दिल्ली

कर्नाटक में फिर नाटक! बीजेपी विधायकों ने येदियुरप्पा के सामने खड़ा किया नया बखेड़ा

कर्नाटक। कर्नाटक में एक बार फिर राजनीतिक उठापठक देखने को मिल सकती है। क्योंकि कर्नाटक में एक बार फिर बागी सक्रिय हो गए हैं. इस बार कांग्रेस और जनता दल सेक्‍यूलर के बागी विधायक नहीं, बल्‍कि बीजेपी के बागी विधायकों ने वहां की राजनीति गरमा दी है. मंत्री नहीं बन पाए करीब 10-15 विधायकों ने बैठक कर कथित रूप से मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा के खिलाफ रणनीति पर चर्चा की।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कम से कम 10-15विधायक राज्य के सीएम बीएस येडियुरप्पा के खिलाफ कथित तौर पर मीटिंग कर रहे हैं. रिपोर्ट के अनुसार बीजेपी विधायकों ने कहा कि फिलहाल राज्य में येडियुरप्पा के बेटे सुपर सीएम हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये विधायक, सीएम से खुश नहीं हैं।

यह मीटिंग राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम जगदीश शेट्टार के घर हो रही है. विधायकों द्वारा एक चिट्ठी लिखी गई है जिस पर किसी के दस्तखत नहीं हैं, हालांकि उसमें साफ तौर पर येडियुरप्पा के खिलाफ बागी तेवर की झलक मिल रही है. विधायकों का दावा है कि राज्य में सीएम के बेटे, सुपर सीएम हैं. बता दें विधायकों के विरोधी सुर राज्य के विधानसभा सत्र से पहले उठी है.

इस घटनाक्रम पर कांग्रेस के नेता बृजेश कलप्पा ने कहा कि 'जब कोई चीज असंवैधानिक होगी. सत्ता हासिल करने के लिए कुछ भी करने की कोशिश की जाएगी तो ऐसा होगा ही. बृजेश ने कहा कि येडियुरप्पा ने आज तक कभी अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए. आगे भी ऐसा हो सकता है.'

सीएम सारे फैसले खुद ले रहेः BJP MLA

मंत्रिमंडल विस्तार पर राज्य में चल रही रार पर बीजेपी विधायक राजू गौड़ा ने फोन पर बताया कि सीपी योगेश्वर को कैबिनेट मंत्रिमंडल में शामिल करने का फैसला निराशाजनक है. हम हैदराबाद कर्नाटक के सभी अन्य विधायकों से मिलेंगे और भविष्य के बारे में विचार करेंगे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ही सारे फैसले ले रहे हैं. पार्टी के कोर सदस्यों का क्या. हैदराबाद कर्नाटक से 12 विधायक जल्द ही मुलाकात करेंगे. उन्होंने कहा कि हम उच्च स्तरीय बैठक में इस मुद्दे को उठाएंगे. योगेश्वर ने कोई चुनाव नहीं लड़ा है, इसलिए वह मंत्री नहीं बन सकते.

लंबे समय से चल रही विस्तार की बात

कर्नाटक में कैबिनेट विस्तार की कवायद पिछले कई दिनों से चल रही है, लेकिन विवादों की वजह से टलती जा रही है. पिछले दिनों कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के तत्कालीन अध्यक्ष अमित शाह से कैबिनेट विस्तार को लेकर लंबी बातचीत भी की थी.

तब कहा गया कि मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के दावोस से लौटते ही कैबिनेट विस्तार हो जाएगा. विश्व आर्थिक मंच यानी वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) की 50वीं सालाना बैठक में हिस्सा लेने के लिए दावोस रवाना होने से पहले सीएम येदियुरप्पा ने कैबिनेट विस्तार की जानकारी दी थी. इस दौरान येदियुरप्पा ने यह भी उम्मीद जताई की कि उनके इस दौरे से सूबे में व्यापक स्तर पर निवेश आएगा।


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it