Top
Begin typing your search...

कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुचा, विधयकों ने सुरक्षा की गुहार लगाई

डीके शिवकुमार ने कहा कि मैं अपने दोस्तों से मिले बिना नहीं जाऊंगा

कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुचा, विधयकों ने सुरक्षा की गुहार लगाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई। कर्नाटक की गठबंधन सरकार का भविष्य संकट में है। कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों के बागी होने के बाद अब उन्हें मनाने का दौर शुरू हो चुका है। एक तरफ जहां सीएम कुमार स्वामी नए सिरे से कैबिनेट के गठन की बात कह चुके हैं। वहीं दूसरी ओर आज मंत्री डीके शिवकुमार के बागी विधायकों से मिलने के लिए मुंबई पहुंचने के बाद सियासत गरमा गई है। वहीं, कांग्रेस-जेडीएस के 10 बागी विधायक मुंबई के रेनेसां होटल में हैं।

बुधवार को विधायको से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेता शिवकुमार को मुंबई पुलिस ने होटल में जाने से रोक दिया गया। इस पर शिवकुमार ने कहा कि उन्होंने यहां रूम बुक किया है। लेकिन सुरक्षा को देखते हुए उनका बुकिंग कैंसिल कर दिया गया। इसके बाद शिव कुमार ने कहा कि मै दोस्त से मिलने आया हू पुलिस नही रोक सकती है। मुंबई से प्यार है। मुझे यह होटल बहुत पसंद है। उन्हें रद्द करने दें। मेरे पास अन्य कमरे भी हैं।

डीके शिवकुमार ने कहा कि मैं अपने दोस्तों से मिले बिना नहीं जाऊंगा। मैं आपके द्वारा नहीं जा सकता (बागी कर्नाटक के विधायक उनसे मिलने के लिए तैयार नहीं हैं), वे मुझे फोन करेंगे। उनका दिल टूट जाएगा। मैं पहले से ही संपर्क में हूं, हम दोनों का दिल धड़क रहा है उनके बीच छोटी सी समस्या हो गई है। विधायकों से बातचीत करना चाहता हूं। यहां डराने-धमकाने की कोई बात नहीं है। वे एक-दूसरे का सम्मान करते हैं। वहीं, जेडीएस नेता नारायण गौड़ा के समर्थकों ने होटल के बाहर शिवकुमार गो बैक के नारे लगाए।

कांग्रेस और जेडीएस के 10 बागी विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ याचिका दाखिल की है। मामले की सुनवाई के दौरान बागी विधायकों की तरफ से वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि स्पीकर अपने दायित्य का पालन नहीं कर रहे हैं। इस्तीफे को स्वीकार करने में देरी किए जाने के बाद बागी विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। अब इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में कल सुनवाई होगी। कर्नाटक में अजीब परिस्थिति है. विधायकों को जनता के बीच दोबारा जाना भी है।

मुंबई के रेनेसां होटल में ठहरे कांग्रेस और जेडीएस के 10 विधायकों को मनाने के लिए कर्नाटक सरकार में मंत्री डीके शिवकुमार और जेडीएस विधायक शिवलिंगे गौड़ा बुधवार को विशेष विमान से बेंगलुरु से मुंबई पहुंचे। बागी विधायकों ने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी और कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार से खतरा है। इसे लेकर विधायकों ने मुंबई पुलिस को पत्र लिखकर सुरक्षा की मांग की।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it