Top
Home > लाइफ स्टाइल > इन घरेलू उपायों से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहेगा!

इन घरेलू उपायों से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहेगा!

 Shiv Kumar Mishra |  22 May 2020 6:09 AM GMT  |  नई दिल्ली

इन घरेलू उपायों से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहेगा!
x

खराब लाइफस्टाइल और खानपान , मोटापा, तनाव के कारण ब्लड शुगर की समस्या हो जाती हैं। डायबिटीज के मरीजों की लगातार बढ़ोत्तरी हो रही हैं जिसमें अधिक मात्रा में युवा भी शामिल है। जब ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाती हैं तो हमारे शरीर की इंसुलिन उत्पादन में काफी प्रभाव पड़ता है। जिसके कारण ही डायबिटीज की समस्या हो जाती है। इस बीमारी के कारण अंधापन, हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक, किडनी में समस्या के साथ-साथ इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है। इसलिए इससे निजात पाना बहुत ही जरूरी है। डायबिटीज की समस्या से निजात पाने के लिए सही डाइट के साथ-साथ कुछ घरेलू उपाय भी अपना सकते हैं। इससे भी आपको तुंरत लाभ मिलेगा।

ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए घरेलू उपाय

तुलसी

आपको बता दें कि तुलसी की पत्तियों में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाएं जाते हैं जो पैंक्रियाज में बीटा सेल्स को इंसुलिन के प्रति सक्रिय बना देते हैं। जिससे तेजी से शरीर में इंसुलिन बनने लगते हैं। रोजाना सुबह 2-3 पत्तियां खाली पेट खाएं।

तेज पत्ता

तेज पत्ता में भी ऐसे गुण पाएं जाते हैं जो पैक्रिंयाज को तुंरत एक्टिव कर देते हैं। जिससे तेजी से इंसुलिन बनने लगते हैं। इसके लिए रात को 4-5 पत्ते पानी में भिगो दें और इन्हें सुबह पीसकर छानकर पी लें। आप चाहे तो तेज पत्ता का पाउडर बनाकर रख सकते हैं।

जामुन

जामुन का सिरका और गुठली का सेवन करें। इससे पैंक्रियाज में इंसुलिन बनेगा। गुठली को लाकर अच्छी तरह से धोकर सुखा लें। इसके बाद इसका चूर्ण बना लें। सुबह काली पेट गुनगुने पानी के साथ इसका सेवन करें।

मेथी

मेथी को अंकुरित करके या फिर इसका पानी पी सकते हैं। इससे आपको लाभ मिलेगा। मेथी को रात को भिगो दें और सुबह इसका पानी पी लें।

गर्मियों में लू से बचना है तो जरूर अपनाएं ये आसान से घरेलू उपाय

सदाबाहर फूल

सदाबाहर फुल दो तरह के होते हैं 1 सफेद और दूसरे हल्के बैगनी या पिंक कलर के। बैगनी वाले फूल डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इसमें सरपेंटीन, एजमेलीसीन जैसे तत्व पाए जाते हैं। इसके लिए सदाबाहर के 10-12 फूल लेकर इसका रस निकाल लें और इसका सेवन करें। आप चाहे तो इसे गिलोय के जूस के साथ भी पी सकते हैं।

सौंफ

डायबीटीज के मरीजों के लिए सौंफ भी फायदेमंद साबित हो सकती हैं। इसलिए नियमित तौर पर खाने के बाद सौंफ खानी चाहिए।

करेले का जूस

करेले का जूस इन्सूलिन को सक्रिय करता है जिससे ब्लड में मौजूद शुगर फैट में नहीं बदल पाता और बॉडी उसका सही इस्तेमाल कर पाती है। सुबह एक गिलास करेले के जूस के सेवन से ब्लड शुगर लेवल को संतुलित और नियमित करने में काफी कारगर होगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it