Top
Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अशोक गहलोत को नहीं सचिन पायलट को लगाया फोन और फिर बन गई बात

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अशोक गहलोत को नहीं सचिन पायलट को लगाया फोन और फिर बन गई बात

 Shiv Kumar Mishra |  20 April 2020 3:30 AM GMT

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अशोक गहलोत को नहीं सचिन पायलट को लगाया फोन और फिर बन गई बात
x

भोपाल। बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की दोस्ती किसी से छिपी नहीं है। कांग्रेस छोड़ने से पहले भी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सचिन पायलट से मुलाकात की थी। अब राजस्थान में एक काम के लिए सिंधिया ने वहां के सीएम गहलोत को नहीं, दोस्त सचिन पायलट को फोन लगाया।

दरअसल, गुना के रहने वाले आशीष जैन नाम के एक शख्स ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह चौहान से मदद मांगी थी। आशीष ने ट्वीट कर ज्योतिरादित्य सिंधिया को लिखा कि मेरी बेटी कोटा में फंसी हुई है, वह वहां पढ़ाई के लिए गई है। वहां हॉस्टल में रहती है और अच्छा महसूस नहीं कर रही। उसे गुना स्थित घर लाने के लिए आपकी मदद की जरूरत है। आशीष जैन ने ज्योतिरादित्य सिंधिया से यह मदद 17 अप्रैल को मांगी थी।

सचिन पायलट से बात हो गई

आशीष द्वारा डिटेल भेजे जाने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट से बात की। उसके बाद उन्होंने आशीष को रिप्लाई करते हुए लिखा कि प्रिय आशीष, आपसे दूरभाष पर चर्चा के अनुसार, मेरी राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट से आपकी बिटिया अंशिका की सुरक्षा को लेकर चर्चा हुई है। कृपया आप आश्वस्त रहें कि आपकी बेटी की उचित देखभाल की जाएगी। और शीघ्र ही उसकी घर वापसी की कोशिश की जा रही है।



बात बनी तो फिर दी जानकारी

19 अप्रैल को ज्योतिरादित्य सिंधिया ने फिर से ट्वीट करते हुए लिखा कि राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मेरे अनुरोध के बाद राजस्थान शहर के कोटा में फंसी गुना शहर की बिटिया इशिका को शीघ्र अपने घर भेजने को लेकर भी आश्वस्त किया है।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it