Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > फैसला सुनाने जज साहब कोर्ट पहुंचे ही थे, कि तब तक सांप ने काट लिया और फिर .... ?

फैसला सुनाने जज साहब कोर्ट पहुंचे ही थे, कि तब तक सांप ने काट लिया और फिर .... ?

 Special Coverage News |  5 Sep 2018 6:51 AM GMT  |  मुंबई

फैसला सुनाने जज साहब कोर्ट पहुंचे ही थे, कि तब तक सांप ने काट लिया और फिर .... ?

नवी मुंबई के पनवेल इलाके में फैसला सुनाने कोर्ट पहुंचे एक जज साहब को सांप ने डस लिया. आनन-फानन में जज साहब को पास के अस्पताल में पहुंचाया गया. उपचार के बाद उनकी हालत में सुधार है. कोर्ट स्टॉफ के मुताबिक मंगलवार को दिन में करीब 11:30 बजे ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट फर्स्ट क्लास (JMFC) पनवेल कोर्ट पहुंचे थे. कोर्ट में फैसला सुनाने के लिए वे अपने चैंबर में तैयार हो रहे थे, तभी छत से एक सांप उनके कंधे पर आकर गिरा और उन्हें काट लिया.

जज साहब को सांप के काटने की खबर से पूरे कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गई. कोर्ट के सारे स्टॉफ चैंबर की ओर दौड़े चले आए. पनवेल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष एडवोकेट मनोज भुजबल ने बताया कि बांदर रोड स्थित कोर्ट में JMFC सीपी कासिद के दाएं हाथ में एक सांप ने डस लिया. उन्हें पास के ही गांधी अस्पताल में पहुंचाया गया, जहां पता चला कि काटने वाला सांप जहरीला नहीं था. प्राथमिक उपचार के बाद जज साहब को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.


जज साहब को घायल करने वाले सांप को पकड़ लिया गया है. बताया जा रहा है कि यह सांप रैट स्नेक प्रजाति का था. बोलचाल की भाषा में इस सांप को धामन भी कहते हैं. सपेरा को बुलाकर इस सांप को पकड़ा गया और उसे दूर ले जाकर छोड़ दिया गया.


पनवेल सब-डिविजनल अस्पताल के अधीक्षक डॉ. नागपाल येम्पले ने बताया कि सांप काटने पर जज साहब को यहां लाया गया था. हालांकि थोड़ी देर बाद ही वे दूसरे अस्पताल में चले गए. इस मामले में पनवेल के सीनियर इंस्पेक्टर विनोद चव्हाण ने बताया कि उन्हें सांप काटने की कोई शिकायत नहीं मिली थी. हालांकि जब पता चला कि जज साहब को सांप ने जख्मी कर दिया है तो अनौपचारिक तौर पर उनसे मुलाकात कर उनका हाल-चाल पूछ लिया.

Tags:    
Share it
Top