Top
Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > महाराष्ट्र को रोजाना 32 रैक कोयले की जरूरतः ऊर्जा मंत्री बावनकुले

महाराष्ट्र को रोजाना 32 रैक कोयले की जरूरतः ऊर्जा मंत्री बावनकुले

 R R Yadav |  29 Oct 2018 2:18 PM GMT  |  Mumbai

महाराष्ट्र को रोजाना 32 रैक कोयले की जरूरतः ऊर्जा मंत्री बावनकुले
x


मुंबई, 29 अक्टूबर । महाराष्ट्र राज्य को बिजली निर्माण के लक्ष्य को हासिल करने और नागरिकों के साथ ही उद्योगों की बिजली डिमांड को पूरा करने के लिए रोजाना 32 रैक कोयले की जरूरत है। यह बात ऊर्जा मंत्री ने कही। दिल्ली में कोयला विभाग के अधिकारियों के साथ आयोजित एक बैठक में महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री बिजली निर्माण में आनेवाली दिक्कतों और कोयले की आपूर्ति को लेकर अपनी बात रख रहे थे। उन्होंने बताया कि राज्य में 24142 मेगावॉट तक बिजली की मांग बढ़ गई है, जबकि अक्टूबर महीने में 19 हजार मेगावॉट से अधिक बिजली का निर्माण नहीं हो पाया है। बिजली निर्माण के लक्ष्य को हासिल करने के लिए राज्य को फिलहाल 1 लाख 40 हजार टन कोयले की जरूरत होती है। मंत्री ने घरेलू बिजली कनेक्शनों के साथ ही सात लाख से ज्यादा किसानों को नए कनेक्शन देने की बात भी कही।

बता दें कि महाराष्ट्र राज्य ने बढ़ती जनसंख्या और बिजली मांग में हो रही बढ़ोतरी को देखते हुए कोयले की दैनिक आपूर्ति को बढ़ाए जाने की मांग की है। दिल्ली में आयोजित इस बैठक में ऊर्जा मंत्री ने राज्य को 32 रैक कोयले की आपूर्ति किए जाने की मांग उठाई। ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि केंद्र सरकार को तत्काल ही कोयले की आपूर्ति के संबंध में जल्द ही ठोस निर्णय लेना चाहिए।

कोयला मंत्रालय के अधिकारियों के साथ सोमवार को आयोजित इस बैठक में महाराष्ट्र समेत कई अन्य राज्यों के मंत्री भी मौजूद रहे। बावनकुले ने इस बैठक में कहा कि महाराष्ट्र राज्य की जनती को अखंडित बिजली सेवाएं उपलब्ध कराने की योजना राज्य सरकार ने बनाई है। राज्य को फिलहाल सिंगरौनी कोयला खदान, वेकोली की महानदी स्थित वेस्टर्न कोल फिल्ड्स लिमिटेड जैसी कंपनियों की ओर से कोयला उपलब्ध कराया जा रहा है। केंद्र और राज्य सरकार के बीच कोयला उपलब्ध कराए जाने के संदर्भ में एक करार किया गया था। ऊर्जा मंत्री बावनकुले ने इस करार के तहत केंद्रीय मंत्री पियुष गोयल से भी चर्चा की।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it