Home > राज्य > महाराष्ट्र > मुम्बई > लिंक पर क्लिक करते ही डॉक्टर के अकाउंट से पार हुए 3 लाख रुपए, आप भी संभल के रहें!

लिंक पर क्लिक करते ही डॉक्टर के अकाउंट से पार हुए 3 लाख रुपए, आप भी संभल के रहें!

फोन करने वाले आरोपी ने कहा कि वो बैंक के आवेदन को अधिकृत करना चाहता है और उसे केवल अकाउंट नंबर की जरूरत है.

 Special Coverage News |  11 Feb 2019 8:10 AM GMT

लिंक पर क्लिक करते ही डॉक्टर के अकाउंट से पार हुए 3 लाख रुपए, आप भी संभल के रहें!

मुंबई पुलिस ने शनिवार को एक 28 वर्षीय युवक को पुणे से गिरफ्तार किया है. युवक पर आरोप है कि इसने कथित तौर पर एक साउथ मुंबई बेस्ड डॉक्टर के बैंक अकाउंट से करीब 3 लाख रुपये साइबर फ्रॉड के जरिए उड़ा लिए. पुलिस के मुताबिक, आरोपी बिपिन महतो ने पिछले साल 21 नवंबर को डॉक्टर को बैंक कर्मचारी बनकर फोन किया. फिर आरोपी ने डॉक्टर के बैंक अकाउंट का 10-डिजिट नंबर मांगा और घटना को अंजाम दिया.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, एक पुलिस अधिकारी ने कहा, 'शुरू में, शिकायतकर्ता डॉक्टर अपने बैंक अकाउंट का जानकारी नहीं दे रहे थे. बाद में, फोन करने वाले आरोपी ने कहा कि वो बैंक के आवेदन को अधिकृत करना चाहता है और उसे केवल अकाउंट नंबर की जरूरत है. आरोपी ने ये भी गारंटी दी कि वो पिन या पासवर्ड नहीं मांगेगा. इस तरह डॉक्टर को किसी भी धोखाधड़ी का शक नहीं हुआ और उन्होंने अपना बैंक अकाउंट आरोपी को दे दिया.'

पुलिस ने बताया कि उसके बाद शिकायतकर्ता के मोबाइल नंबर के लिए एक लिंक जेनरेट किया गया. फिर आरोपी ने लिंक क्लिक कर वो मैसेज अपने नंबर पर फॉर्वर्ड करने को कहा. जैसे ही डॉक्टर ने वो मैसेज आरोपी को फॉर्वर्ड किया. डॉक्टर के अकाउंट से कुल 2.9 लाख रुपये चार अलग-अलग ट्रांजैक्शन के जरिए पार कर लिया गया. डॉक्टर के अकाउंट में 1 लाख रुपये के दो और 50,000 रुपये और 40,000 रुपये के ट्रांजैक्शन हुए.

घटना होने के बाद डॉक्टर ने गामदेवी पुलिस स्टेशन में संपर्क किया और किसी अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ केस रजिस्टर कराया. फिर उस बैंक अकाउंट की जांच करने के लिए एक टीम बनाई गई जिसमें ये पैसा ट्रांसफर किया गया था.

गमदेवी पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि, ये बैंक अकाउंट महतो नाम के एक युवक का है और ये अकाउंट एक बैंक के पुणे ब्रांच में खोला गया है. अधिकारियों की एक टीम को उसके पते पर भेजा गया और उसे पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशन लाया गया. पुछताछ के दौरान युवक ने अपना जुर्म कुबुल कर लिया.

पुलिस ने कहा कि वे इस बात की पुष्टि कर रहे हैं कि क्या आरोपी और भी मामलों में वांटेड है. आरोपी को रविवार को किला अदालत में पेश किया गया और पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. गामदेवी पुलिस ने भारतीय दंड संहिता और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top