Top
Home > राज्य > महाराष्ट्र > पुणे > बीजेपी एमएलसी गोपीचंद पडलकर के बयान के बाद मच गया सियासी बवाल

बीजेपी एमएलसी गोपीचंद पडलकर के बयान के बाद मच गया सियासी बवाल

पाटिल ने कहा कि हमारे पार्टी सहयोगी(गोपीचंद) ने शरद पवार का अपमान नहीं किया था, लेकिन उनके द्वारा आलोचना के लिए जिस शब्द का चुनाव किया गया, वह गलत था.

 Shiv Kumar Mishra |  26 Jun 2020 3:50 AM GMT  |  मुंबई

बीजेपी एमएलसी गोपीचंद पडलकर के बयान के बाद मच गया सियासी बवाल
x

पुणे: एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार पर बीजेपी (BJP) एमएलसी गोपीचंद पडलकर के बयान के बाद महाराष्ट्र की सियासत में हंगामा हो गया है. दरअसल बीजेपी नेता गोपीचंद ने शरद पवार को महाराष्ट्र का 'कोरोना' कहा था. गोपीचंद ने यह भी कहा था कि पवार कोरोना की तरह महाराष्ट्र को संक्रमित कर रहे हैं. पडलकर ने पवार पर यह भी आरोप लगाया था कि वह धनगर समुदाय के रिजर्वेशन के नाम पर राजनीति कर रहे हैं.

पडलकर के इस बयान के बाद सियासत का दौर शुरू हो गया था. अब महाराष्ट्र बीजेपी प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने गुरुवार को इस मुद्दे पर बयान दिया है और गोपीचंद का बचाव किया है. पाटिल ने कहा कि हमारे पार्टी सहयोगी(गोपीचंद) ने शरद पवार का अपमान नहीं किया था, लेकिन उनके द्वारा आलोचना के लिए जिस शब्द का चुनाव किया गया, वह गलत था.

पाटिल ने कहा, 'गोपीचंद बीजेपी के एक बुद्धिमान कार्यकर्ता हैं. हालांकि उनके द्वारा चुना गया शब्द गलत था. उन्होंने शरद पवार का कोई अपमान नहीं किया बल्कि वह उनका बहुत सम्मान करते हैं. अपने बयान में पडलकर ने ये कहा था कि पवार ने लोअर क्लास के साथ न्याय नहीं किया.'

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it