Top
Breaking News
Home > Archived > कांग्रेस की पत्रि‍का कांग्रेस दर्शन ने किया पूरा पर्दाफाश

कांग्रेस की पत्रि‍का 'कांग्रेस दर्शन' ने किया पूरा पर्दाफाश

 Special News Coverage |  28 Dec 2015 9:48 AM GMT

rahul-and-sonia
कांग्रेस की पत्रि‍का 'कांग्रेस दर्शन' ने कांग्रेस को आज कटघरे में खड़ा कर दिया है। कांग्रेस की पत्रि‍का 'कांग्रेस दर्शन' पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर आपत्तिजनक लेख छापा है। इसमें सोनिया के पिता को फासीवाद सैनिक बताया गया है, जबकि नेहरू के फैसलों पर सवाल उठाए गए हैं।

नेहरू पर आरोप
कांग्रेस की मुंबई यूनिट के इस मुखपत्र में कहा गया है कि भारत के सामने कश्मीर, चीन और तिब्बत जैसे समस्याओं के लिए जवाहर लाल नेहरू जिम्मेदार हैं। इसमें साफ-साफ कहा गया है कि नेहरू को स्वतंत्रता सेनानी और पूर्व गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की बात मानना चाहिए थी।


नेहरू-पटेल पर ही कर दी टिप्पणी
इससे पहले पार्टी ने शायद ही इन दोनों नेताओं के बीच के मतभेद को उठाया गया हो लेकिन 'कांग्रेस दर्शन' में अब इस मुद्दे को उठाया गया है। ये लेख 15 दिसंबर को पटेल की पुण्यतिथि के मौके पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए लिखा गया है। इसमें कहा गया है, 'पटेल के उप प्रधानमंत्री और गृह मंत्री बनने के बावजूद दोनों नेताओं के बीच रिश्ते तनावपूर्ण रहे और दोनों बार-बार इस्तीफा देने की धमकी देते रहे।'

संजय निरुपम को पड़ी कड़ी फटकार
पत्रि‍का के सांसद कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने इस गलती के लिए माफी मांगी। निरुपम ने कहा, 'लेख में जो शब्द इस्तेमाल किए गए हैं, वो आपत्त‍िजनक हैं. इस भयंकर गलती को करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी॥' सूत्रों ने बताया कि पार्टी आलाकमान ने इस गड़बड़ी के लिए निरुपम को फटकार लगाई और कहा कि वे खुद सफाई दें और दोषियों के खिलाफ एक्शन लें। निरुपम को आगे से और ज्यादा ध्यान रखने की हिदायत भी दी गई है. इस गलती के लिए संजय निरुपम के खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है।

पटेल के जन्मदिवस पर बात
इस लेख में कहा गया है कि सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्म दिवस(31 अक्टूबर) को 2014 से नेशनल यूनिटी डे के तौर पर मनाया जा रहा है। लगता है कि मुंबई स्थानीय कांग्रेस कमेटी(एमआरसीसी) ये भूल गई है कि इसे विपक्षी दल बीजेपी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये कहते हुए शुरू किया था कि कांग्रेस ने अपने नेता को भुला दिया है।

सोनिया की नागरिकता पर उठाया सवाल
लेख में कहा गया है कि राजीव गांधी से शादी करने के बहुत समय बाद सोनिया ने भारत की नागरिकता अपनाई थी। साथ ही सोनिया के पिता को फासीवादी सैनिक बताया गया है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it