Home > Archived > जम्मू कश्मीरः गर्व है हमें इकलौती संतान देश के लिए कुर्बान, कैप्टन समेत 5 जवान शहीद

जम्मू कश्मीरः गर्व है हमें इकलौती संतान देश के लिए कुर्बान, कैप्टन समेत 5 जवान शहीद

 Special News Coverage |  21 Feb 2016 11:10 AM GMT

shahid1-



नई दिल्ली
जम्मू कश्मीर के पंपोर में आतंकियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ में कैप्टन शहीद हो गये हैं। कैप्टन पवन कुमार आतंकियों से लड़ते वक्त शहीद हुए हैं। सेना के एक और जवान आतंकियों की गोली से शहीद हो गये हैं। इस हमले में अब तक 5 लोगों की जान चली गई है।

गर्व है कि उनका बेटा देश के लिए कुर्बान

सेना के कैप्टन, दो सीआरपीएफ जवान, एक कर्मचारी के बाद एक और सेना जवान शहीद हो गये हैं। बताया जा रहा है कि दो से चार आतंकी बिल्डिंग में छिपे हो सकते हैं। शहीद पवन के पिता ने कहा है कि उन्हें गर्व है कि उनका बेटा देश के लिए कुर्बान हुआ है। शहीद पवन मां-पिता की इकलौती संतान थे। शहीद पवन हरियाणा के जींद के रहने वाले थे।


कल जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक के राजेंद्र ने कहा था, ‘‘इमारत से लोगों को बाहर निकालने में हम कामयाब रहे।’’ इमारत से बाहर निकाले गए लोगों में से एक ने दावा किया कि आतंकवादियों ने उनसे वहां से चले जाने को कहा क्योंकि वे नागरिकों को कोई नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते थे।

सेना के प्रतिष्ठित 15 कोर का मुख्यालय मुठभेड़ स्थल से करीब 10 किलोमीटर दूर स्थित है। सीआरपीएफ और स्थानीय पुलिस की मदद के लिए सेना के जवानों को भेजा गया है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार आतंकवादियों की संख्या तीन से पांच के बीच है।

अधिकारियों ने बताया कि ईडीआई परिसर में घुसने के पहले आतंकवादियों ने परिसर के ठीक बाहर सीआरपीएफ के एक काफिले पर गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि अर्धसैनिक बल के दो जवान शहीद हो गये वहीं 10 अन्य घायल हो गए। घायलों में से एक नागरिक भी है जिसकी स्थिति गंभीर बतायी जाती है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top