Top
Begin typing your search...

चाय के बदले पठानकोट में 7 जवान शहीद हो गए : शिवसेना

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
ShivSena on Pathankot Attack


मुंबई : बीजेपी की सहयोगी शिवसेना ने माउथपीस सामना के जरिए नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में पठानकोट हमले का जिक्र करते हुए कहा कि पाकिस्तान ने छह-सात आतंकवादियों को भेजकर हिंदुस्तान की इज्जत तार-तार कर दी है।

5 जनवरी को ‘पठानकोट की शहादत- देश लड़ रहा है क्‍या?’ हेडलाइन से छपे संपादकीय में लिखा गया है, ‘शरीफ के साथ चाय-पान यह हमारे प्रधानमंत्री का निजी विषय है। चाय के बदले पठानकोट में 7 जवान शहीद हो गए। उन वीर जवानों का परिवार आक्रोश कर रहा है। वीर क्‍यों शहीद हुए? देश के सामने सवाल है। यह शहादत क्‍यों हुई? जवान शहीद हो रहे हैं, लेकिन देश लड़ रहा है क्‍या? जवाब दो!’

सामना में लिखा गया है, " 6-7 आतंकवादियों को भेजकर पाकिस्तान ने हमारे खिलाफ जंग का ऐलान किया है। पठानकोट में आतंकवादी हमला करते हैं और कई घंटे बाद भी जंग खत्म नहीं होती। देश की बॉर्डर भी सेफ नहीं हैं। इंटरनल सिक्युरिटी भी खत्म हो गई है। ये हमला इसी बात का सबूत है।"

- एडिटोरियल में आगे कहा गया है, "सिर्फ 6 सनकी आतंकियों की कीमत चुकाकर पाकिस्तान ने हिंदुस्तान की इज्जत तार-तार कर दी है। डिफेंस मिनिस्टर और पीएम सबक लें और हालात सुधारें।” होम सेक्रेटरी के बयान पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने लिखा है, "वे ऑपरेशन खत्म होने के बाद बताएंगे कि आतंकियों की संख्‍या कितनी है। मतलब यह हुआ की सरकार खुद अंधेरे में है।"

हमें वही मोदी चाहिए
उद्धव ठाकरे ने मोदी के उस बात को याद करते हुए सामना के संपादकीय में साफ कहा है कि हमें वही मोदी चाहिए.. आज भी बंदूक और तोप की आवाजों से देश के कान बैठ गए हैं फिर भी पठानकोट का बदला यदि हम लेने वाले नहीं होंगे तो गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर शस्त्रों का चलित प्रदर्शन दिखाने का कोई अर्थ नहीं है। यह शस्त्र प्रदर्शन निष्क्रिय साबित होगा।
Special News Coverage
Next Story
Share it