Top
Begin typing your search...

मोदी-ओलांद की मौजूदगी में इंडिया-फ्रांस बिजनेस समिट में इन समझौतों पर हुए हस्ताक्षर

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
PM Modi And President Hollande
Photo Credit : PIB


नई दिल्ली : गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि बनकर तीन दिवसीय भारत दौरे पर आए फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने इंडिया-फ्रांस बिजनेस समिट को संबोधित किया।

समिट के दौरान मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद की उपस्थिति में फ्रेंच और भारतीय कंपनियों के बीच 16 व्यापारिक समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। इसके साथ ही चंडीगढ़, नागपुर और पुडुचेरी ने स्मार्टसिटी के लिए MoU पर दस्तखत किए। फ्रांस की नौ कंपनियों के साथ EPI समझौता भी हुआ। फ्रांस की कंपनी एयरबस और भारत की ऑटोमोबाइल कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा के बीच करार हुआ है कि दोनों मिलकर भारत में हेलीकॉप्टर बनाएंगे।

वहीं, बिजनेस समिट में पीएम मोदी ने कहा, 'महान ली कॉरबुजियर के बनाए इस शहर में राष्‍ट्रपति ओलांद का स्‍वागत कर खुशी हुई। मुझे पिछले वर्ष राष्‍ट्रपति ओलांद से 5 बार मिलने का मौका मिला।'

पीएम ने कहा, 'भारत पूरी दुनिया के लिए आशा और विश्‍वास का स्रोत है। भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यवस्‍था है। हमारे पास आपके उत्‍पादों के लिए श्रम के साथ ही बाजार भी है। हमारी रणनीतिक साझेदारी केवल पेरिस और दिल्‍ली के बीच नहीं है, ये आप सभी के साथ भी है।'

सीईओ मंच को संबोधि‍त करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'फ्रांस ने दुनिया को सिद्धांतों और प्रगति के मार्ग से हटे बिना आतंकवाद का मुकाबला करने का रास्ता दिखा दिया। मैं राष्ट्रपति ओलांद को सुन रहा था, मैं उनके शब्दों में भारत के साथ काम करने के लिए उनकी उत्साह और आत्मविश्वास को देख सकता हूं। फ्रांस के साथ भारत की जो निकटता है, जो विश्वास पनपा है। ये आने वाले दिनों के लिए एक बहुत बड़ी अमानत है।





वहीं, फ्रांस्वा ओलांद ने पीएम की प्रशंसा करते हुए कहा कि मोदी ने COP21 सम्मेलन में निर्णायक भूमिका अदा की। ओलांद ने आगे कहा, 'मेरी भारत यात्रा का मुख्य लक्ष्य दोनों देशों के बीच सामरिक संबंधों को और मजबूत बनाना है।' दोनों नेताओं ने आतंकवाद और ग्लोबल वॉर्मिंग के क्षेत्र में साथ मिलकर काम करने की प्रतिबद्धता भी जाहिर की। मोदी ने आतंकवाद और ग्लोबल वार्मिंग को पूरी दुनिया के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया।

इससे पहले, चंडीगढ़ के ऐतिहासिक रॉक गार्डन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति ओलांद फ्रांस्वा का गर्मजोशी से स्वागत किया। चंडीगढ़ में पीएम मोदी के साथ ओलांद कैपिटल कॉम्पलेक्स भी गए। फ्रांस के राष्ट्रपति इस साल गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि हैं। 26 जनवरी को वह प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ राजपथ के मंच पर मौजूद होंगे। इसके साथ ही पहली बार फ्रांस की सेना की एक टुकड़ी भी गणतंत्र दिवस परेड में शामिल हो रही है।
Special News Coverage
Next Story
Share it