Top
Begin typing your search...

विश्व सूफी फोरम में बोले पीएम मोदी, सिर से लेकर पैर तक भारत शांति और सौहार्द का प्रतीक है

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Modi at World Sufi Forum
विश्व सूफी फोरम को संबोधित करते पीएम मोदी

नई दिल्ली : दिल्ली के विज्ञान भवन में आज से विश्व सूफी फोरम का आगाज हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया है।




'भारत माता की जय' के नारों के साथ हुआ स्वागत :

विश्व सूफी सम्मेलन को संबोधित करने से पहले पीएम मोदी का भारत माता की जय के नारों के साथ स्वागत हुआ। पीएम मोदी ने संबोधित करते हुए कहा, आप सभी का उस धरती पर स्वागत है, जो हमेशा से ही शांति और संस्कृति का संगम रही है। भारत सिर से लेकर पैर तक शांति और सौहार्द का प्रतीक है।

पीएम ने कहा, आप सभी (सूफी स्कॉलर्स) अलग-अलग देशों से आए हैं, आप अलग-अलग भाषाएं बोलते हैं, लेकिन आपका मकसद एक है विश्व में शांति-भाईचारे का संदेश देना। जब मासूम आवाजों को बीच सड़क पर बंदूक के दम पर दबाया जा रहा है, तब आप वह आवाज हैं जो सहारा देते हैं।




पीएम मोदी ने आगे कहा, हजरत निजामुद्दीन ने कहा था कि परवरदिगार उन्हें प्यार करते हैं, जो इंसानियत से प्यार करते हैं, बुल्लेशाह कहते थे कि ईश्वर-अल्लाह लोगों के दिल में बसते हैं, ये विचार ऐसे हैं जो आज के समय की जरूरत हैं।

जब हम अल्लाह के 99 नामों की बात करते हैं, तो उनमें से कोई भी हिंसा की बात नहीं करता। दुनिया में काली घटा के दौर में सूफी पंथ एक नूर की तरह है सूफी विचारधारा इंसान में भेद करना नहीं सिखाती।

तीन दिनों तक चलने वाले इस कार्यक्रम में 20 देशों के करीब 200 प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं। आखिरी दिन रामलीला मैदान में एक रैली भी आयोजित होगी। कार्यक्रम का आयोजन ऑल इंडिया उलमा एंड मशैख बोर्ड (AIUMB) द्वारा किया जा रहा है।

इस समारोह में इस्लाम के नाम पर आतंकवाद के उपयोग और कट्टरवाद की बढ़ती घटनाओं का मुकाबला करने के लिए दीर्घकालिक विकल्पों पर भी बात की जाएगी।
Special News Coverage
Next Story
Share it