Top
Breaking News
Home > Archived > DDCA : केजरीवाल की जांच कमेटी ने जेटली को दी क्लीन चिट

DDCA : केजरीवाल की जांच कमेटी ने जेटली को दी 'क्लीन चिट'

 Special News Coverage |  27 Dec 2015 11:43 AM GMT

Arun Jaitley


नई दिल्ली : डीडीसीए घोटाले की जांच के लिए बने आयोग की रिपोर्ट ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के दावों पर सवाल खड़े कर दिए हैं। सीबीआई की छापेमारी को लेकर भले ही केजरीवाल ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को कठघरे में खड़ा किया हो। लेकिन डीडीसीए घोटाले की जांच के लिए आम आदमी पार्टी की सरकार की तरफ से गठित आयोग में जेटली का नाम भी नहीं लिया गया है।

असल में दिल्ली जिला क्रिकेट संघ यानि डीडीसीए में कथित घपलेबाजी की जांच के लिए केजरीवाल सरकार ने तीन सदस्यीय आयोग का गठन किया था जिसने अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंप दी है।


चौंकाने वाली बात ये है कि 247 पन्ने की जांच रिपोर्ट में वित्त मंत्री के नाम तक का जिक्र नहीं किया गया है। जांच में किसी भी अनयिमितता का संबंध जेटली से जुड़ता हुआ नहीं पाया गया है। यह आयोग अरूण जेटली के अध्यक्ष रहते हुए फिरोज शाह कोटला में कॉर्पो‌रेट बॉक्स और निर्माण कार्य में अनियमितताओं के आरोप की जांच के लिए गठित किया गया था।

केजरीवाल ने उठाये थे सवाल :
छापेमारी की कार्रवाई से खफा हुए दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा था, यह खुलासा किए जाने की जरूरत है कि सीबीआई आखिर मेरे दफ्तर में क्यों आई थी। वह कौन सी फाइल देखना चाहती थी। शायद वह डीडीसीए के जांच आयोग की फाइल देखना चाहती थी, जिसमें अरुण जेटली फंसने वाले हैं। अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया था, जेटली कई सालों तक डीडीसीए के प्रेजिडेंट थे और मैंने कार्यकाल के दौरान संस्था में हुए भ्रष्टाचार की जांच के लिए समिति का गठन किया है। समिति ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है और इस पर जांच आयोग बिठा दिया गया है। यह फाइल मेरे ऑफिस में ही रखी थी। हालांकि आयोग की रिपोर्ट में जेटली का नाम भी नहीं लिया गया है। यही नहीं रिपोर्ट में कई अधिकारियों से लिए गए इंटरव्यू भी दर्ज हैं, लेकिन कहीं भी वित्त मंत्री का जिक्र नहीं है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it