Top
Home > Archived > नेशनल हेराल्ड : अब शांति भूषण भी करेंगे केस, सोनिया-राहुल की मुश्किलें बढ़ेंगी

नेशनल हेराल्ड : अब शांति भूषण भी करेंगे केस, सोनिया-राहुल की मुश्किलें बढ़ेंगी

 Special News Coverage |  11 Dec 2015 11:37 AM GMT

Shanti Bhushan National herald case

नई दिल्ली : पूर्व कानून मंत्री शांति भूषण ने हेराल्ड मामले को नया मोड दे दिया है। भूषण अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी को हेराल्ड मामले में कोर्ट में खींचने जा रहे हैं।

दरअसल भूषण का कहना है कि एसोसिएट जर्नल्स के शेयर जो यंग इंडिया को ट्रांसफर किए गए उसका तरीका गैरकानूनी था। उनका कहना है कि इस कंपनी में उनके पिता ने कुछ शेयर खरीदे थे इसलिए इस कंपनी का मालिकान हक उनके वारिसों को मिलना चाहिए। गौरतलब है कि भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी हेराल्ड मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके पुत्र राहुल गांधी को पहले ही कोर्ट में खींच चुके हैं।


शांति भूषण का कहना है कि उनके पिता ने एसोसिएट जर्नल्स (एजेएल) में शेयर खरीदे थे, लिहाजा अब उन पर उनके वारिसों का हक बनता है। उन्होंने बताया, “ मेरे पिता ने साल 1938 में कंपनी के शेयर्स खरीदे थे। हम 10 भाई-बहन थे, जिनमें से तीन नहीं रहे। मुझे पिताजी के सभी वारिसों के हस्ताक्षर लेने हैं। ऐसा करने पर कंपनी के सभी 300 शेयर्स का मालिकाना हक मेरे पिताजी से नाम पर हो पाएगा। मैने इसके लिए जरूरी प्रक्रिया भी शुरु कर दी है। मैं कंपनी के शेयर्स ट्रांसफर प्रक्रिया को चुनौती दूंगा क्योंकि यह प्रक्रिया गैरकानूनी थी।” जानकारी के मुताबिक फिलहाल सोनिया गांधी और राहुल गांधी यंग इंडिया लिमिटेड के डायरेक्टर हैं।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it