Top
Begin typing your search...

पठानकोट: निष्क्रिय करते वक़्त फटा बम, NSG का एक जवान शहीद

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
pathankot attack

पठानकोट (पंजाब) : पंजाब के पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर रविवार दोपहर करीब 12 बजे निष्क्रिय करते वक्त एक बम फट गया, जिसमें सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी शहीद हो गए। हमले में अब तक 11 शहीद हो चुके हैं। जबकि 15 जवान घायल हैं। शहीदों में सैन्य अफसर के अलावा डिफेंस सर्विस कोर के 6, एयरफोर्स और गरुड़ के दो-दो जवान शामिल हैं।

17 घंटे चली मुठभेड़, सर्च ऑपरेशन जारी
आतंकियों से शनिवार तड़के शुरू हुई मुठभेड़ 17 घंटे चली। इसमें चार आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि की जा चुकी है। पांचवें आतंकी पर सस्पेंस कायम है। कुछ अपुष्ट खबरों के मुताबिक वह भी मारा जा चुका है। एयरबेस और आसपास के 14 किलोमीटर के दायरे में सर्च ऑपरेशन जारी है।

आतंकियों ने पाक में किया था फोन
खुफिया एजेंसियों को पठानकोट हमले के आतंकियों के फोन कॉल डिटेल मिले हैं। इसके मुताबिक रात डेढ़ से पौने दो बजे के बीच आतंकियों ने पाकिस्तान में चार फोन कॉल किए थे। खुफिया एजेंसियों ने ये फोन कॉल ट्रेस किए हैं आतंकियों के फोन कॉल डिटेल से पता चलता है कि तीन कॉल पाकिस्तान में बैठे हैंडलर्स को किए गए थे, जबकि एक आंतकी ने अपनी मां से बात की थी। आतंकी ने मां से कहा कि वह फिदायीन मिशन पर है, जिस पर उसकी मां ने कहा कि मरने से पहले खाना खा लेना।

खबरों के मुताबिक आतंकी एके-47, हैण्ड ग्रेनेड, जीपीएस सिस्टम समेत भारी गोला बारूद से लैश थे, लेकिन मुस्तैद सुरक्षा बलों ने उनके हमले को नाकाम कर दिया। आतंकवादी शनिवार तड़के 3 बजे लैंड क्रूजर और पजेरो गाड़ी से पठानकोट एयरबेस पहुंचे थे। आतंकियों की पाकिस्तान के बहावलपुर में 6 महीने तक ट्रेनिंग हुई और वे अल रहमान ट्रस्ट से जुड़े हैं।
Special News Coverage
Next Story
Share it