Top
Begin typing your search...

PM मोदी और शिंजो आबे ने दशाश्वमेध घाट पर की गंगा पूजा, गंगा आरती ने मोहा मन

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
PM Modi and Japan PM Shinzo Abe in Ganga aarti


वाराणसी : गंगा आरती में शामिल होने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे दशाश्वमेध घाट पहुंचे हैं। उनकी उपस्थिति के मद्देनजर यहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। मंदिरों के शहर वाराणसी में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। दशाश्वमेध घाट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे का जोरदार स्वागत किया गया। घाट को फूलों से सजाया गया है। आरती से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिंजो आबे ने गंगा पूजा की।

ganga aarti

हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाइक, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा और कलराज मिश्र सहित अन्य लोग ने की। एक होटल में कुछ देर रुकने के बाद प्रधानमंत्री दशाश्वमेध घाट पहुंचे जहां वह गंगा आरती में शामिल होंगे। इसके बाद मोदी और आबे रात्रि भोज में गणमान्य अतिथियों से संवाद करेंगे।




रात्रि भोज में राज्यपाल, मुख्यमंत्री, कुछ केंद्रीय मंत्री, सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव, प्रख्यात संगीतज्ञ और पद्म भूषण सम्मान से सम्मानित पंडित छन्नूलाल मिश्र, रचनाकार नीरजा माधव, काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट के पंडित अशोक द्विवेदी और समाज के विभिन्न वर्गों की जानीमानी हस्तियां भी शामिल होंगी।

welcomed

समझा जाता है कि रात लगभग आठ बजे दोनों प्रधानमंत्री नई दिल्ली वापस जाने के लिए विमान में सवार होंगे। पूरे वाराणसी में लगभग चार घंटे की ‘हाई प्रोफाइल' यात्रा के लिए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम के तहत करीब 7,000 सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं।

घाटों पर आम तौर पर भारी भीड होती है। इन घाटों की सुरक्षा का जिम्मा सेना और नौसेना ने अपने हाथों में ले लिया है जबकि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के स्कूबा गोताखोरों को अस्थायी मंच पर तैनात किया जाएगा. यह मंच नदी के तट पर पीपों की मदद से तैयार किया गया है।
Special News Coverage
Next Story
Share it