Top
Home > राष्ट्रीय > 7 रोंहिग्या शरणार्थियों को वापस भेजेगा भारत, जानें- पूरा मामला

7 रोंहिग्या शरणार्थियों को वापस भेजेगा भारत, जानें- पूरा मामला

हालांकि मंत्रालय की तरफ से यह जानकारी नहीं दी गई है कि भेजे जाने वाले 7 रोहिंग्याओं के धर्म संबंधी कोई जानकारी नहीं दी गई है?

 Special Coverage News |  4 Oct 2018 4:00 AM GMT  |  दिल्ली

7 रोंहिग्या शरणार्थियों को वापस भेजेगा भारत, जानें- पूरा मामला
x

नई दिल्ली : भारत में बसे म्यांमार के रोहिंग्याओं के पहले बैच को गुरुवार को वापस भेजने की तैयारी है. इस बैच में कुल 7 लोग शामिल हैं जिन्हें आज वापस भेजा जाना है. गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि 'म्यामांर नागरिकों' को उनके देश भेजा जाएगा. बता दें कि म्यांमार में उनके खिलाफ हिंसा होने के चलते बड़े पैमाने पर रोहिंग्याओं को भारत और बांग्लादेश के लिए पलायन करना पड़ा था. इस बीच एक्टिविस्ट ग्रुप ने रोहिंग्याओं की वापसी के ख़िलाफ़ न्यायिक दख़ल की मांग की है.

हालांकि मंत्रालय की तरफ से यह जानकारी नहीं दी गई है कि भेजे जाने वाले 7 रोहिंग्याओं के धर्म संबंधी कोई जानकारी नहीं दी गई है.

गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने वापसी को लेकर कहा, 'इन लोगों के पतों का वेरिफिकेशन कर दिया है और ट्रैवल परमिट जारी कर दिए हैं. इसके बाद ही इन्हें डिपोर्ट करने की तैयारी की जा रही है. असम में कई सालों तक हिरासत में रखने के बाद इन्हें मणिपुर के मोरेह के रास्ते वापस म्यांमार भेजा जा रहा है.'

होम मिनिस्ट्री ने यह बताने से इनकार कर दिया है कि वापस भेजे जा रहे रोंहिग्या मुस्लिम हैं या नहीं। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि म्यामांर ने इन लोगों के पतों का वेरिफिकेशन कर दिया है और ट्रैवल परमिट जारी कर दिए हैं। इसके बाद ही इन्हें डिपोर्ट करने की तैयारी की जा रही है। असम में कई सालों तक हिरासत में रखने के बाद इन्हें मणिपुर के मोरेह के रास्ते वापस म्यांमार भेजा जा रहा है।

अगले चुनाव में हो सकता है चुनावी मुद्दा?

विपक्षी दल बीजेपी पर घुसपैठियों के नाम पर ऐंटी-मुस्लिम अजेंडा चलाने का आरोप लगा रहे हैं। दूसरी तरफ बीजेपी चीफ अमित शाह का कहना है कि घुसपैठिये दीमक की तरह भारत के सीमित संसाधनों को खत्म करने का काम कर रहे हैं। इन विदेशी लोगों के प्रति सरकार किस तरह का रवैया रखती है, यह आने वाले समय में चुनावी मुद्दा भी हो सकता है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it