Breaking News
Home > राष्ट्रीय > कुछ ऐसा है छठे चरण के चुनाव का गणित, प्रचार थमा, 12 मई को 7 राज्यों की 59 सीटों के लिए होगी वोटिंग

कुछ ऐसा है छठे चरण के चुनाव का गणित, प्रचार थमा, 12 मई को 7 राज्यों की 59 सीटों के लिए होगी वोटिंग

क सभा चुनाव 2019 के छठे चरण में भारत के 7 राज्यों में 59 सीटों के लिए मई 12 को चुनाव होने जा रहा है।

 Special Coverage News |  10 May 2019 11:41 AM GMT  |  दिल्ली

कुछ ऐसा है छठे चरण के चुनाव का गणित, प्रचार थमा, 12 मई को 7 राज्यों की 59 सीटों के लिए होगी वोटिंग

नई दिल्ली : छठे चरण के मतदान के लिए आज प्रचार का आखिरी दिन था। आज शाम पांच बजे प्रचार का शोर थम गया । छठे चरण के चुनाव प्रचार के आखिरी दिन की वजह से आज ताबड़तोड़ रैलियां भी थीं। इस चरण में अलग-अलग पार्टियों के कई दिग्गजों की किस्मत दांव पर है। साथ ही कई हाईप्रोफाइल सीटों पर कांटे का मुकाबला भी है। इस छठे चरण की खास बात ये है कि जहां भी हिंसा की आशंका है वहां बुलेट प्रूफ जैकेट के साथ हथियारबंद कमांडो तैनात किये जा रहे हैं।

12 मई को सात राज्यों की 59 सीटों के लिए वोटिंग होगी। इनमें छठे चरण में दिल्ली और हरियाणा की सभी सीटों के लिए वोटिंग होगी तो यूपी में एक बार फिर सबसे ज्यादा 14 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। मध्य प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल की 8-8 सीटों के लिए वोट पड़ेंगे तो झारखंड की चार सीटों के लिए भी वोटिंग होगी।

छठे चरण में कई दिग्गज हैं जिनकी किस्मत ईवीएम में कैद होनी है। इन दिग्गजों में सबसे पहले बात अगर यूपी से करें तो आजमगढ़ सीट से समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का मुकाबला बीजेपी के दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ से है। इलाहाबाद सीट से बीजेपी उम्मीदवार रीता बहुगुणा जोशी का मुकाबला कांग्रेस के योगेश शुक्ला से, सुल्तानपुर से बीजेपी की उम्मीदवार और मोदी सरकार में मंत्री मेनका गांधी का मुकाबला कांग्रेस के संजय सिंह से है।

बात मध्य प्रदेश की करें तो यहां सबकी नज़रें भोपाल सीट पर लगी है जहां कांग्रेस के दिग्विजय सिंह के सामने बीजेपी ने प्रज्ञा सिंह ठाकुर को मैदान में उतारा है। वहीं गुना में कांग्रेस के तेज़तर्रार नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का मुकाबला बीजेपी के केपी यादव से है।

दिल्ली की सातों सीटों पर भी मुकबला इस बार बेहद रोचक है। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट से तीन बार की सीएम और दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित को टक्कर दे रहे हैं। आम आदमी पार्टी ने दिलीप पांडे को यहां उम्मीदवार बनाया है। पूर्वी दिल्ली से क्रिकेट से पॉलिटिक्स में एंट्री लेने वाले बीजेपी के गौतम गंभीर का मुकाबला कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली और आम आदमी पार्टी की आतिशी से है।

हरियाणा की दस सीटों पर 12 मई को वोटिंग होगी। यहां पर सबकी नज़रें सोनीपत सीट पर हैं जहां कांग्रेस ने दो बार सीएम रहे भूपेन्द्र सिंह हुड्डा को मैदान में उतारा है। उनके सामने बीजेपी के मौजूदा सांसद रमेश कौशिक हैं। वहीं जेजेपी के दिग्विजय सिंह चौटाला भी सोनीपत सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। हरियाणा की दूसरी वीआईपी सीट है रोहतक जहां भूपेन्द्र हुड्डा के बेटे और मौजूदा सांसद दीपेन्द्र हुडड्डा को बीजेपी के अरविंद शर्मा टक्कर दे रहे हैं।

छठे चरण के लिए चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल के लिए खास इंतज़ाम किये हैं। यहां पैरामिलिट्री फोर्स की 602 कंपनियों को तैनात किया जा रहा है। आर्म्ड फोर्सेस की 111 कंपनियों को भी मतदान के दिन तैनात किया जाएगा, साथ ही हर जगह पर क्विक रिएक्शन टीम (QRT) को भी तैनात किया जाएगा। सभी जवान बुलेटप्रूफ जैकेट और हथियारों से लैस होंगे। अब तक लोकसभा की 424 सीटों पर वोटिंग हो चुकी है और इसमें 65 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ है। अब आने वाले दो चरणों में अब केवल 118 सीटों पर वोट डाले जाने हैं।

छठे चरण में 7 राज्य की 59 सीट

छठे चरण में सात राज्यों की 59 सीटों पर 12 मई को वोट डाले जाएंगे. इस चरण में बिहार-8, हरियाणा-10, झारखंड-4, मध्य प्रदेश-8, उत्तर प्रदेश-14, पश्चिम बंगाल-8 और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली- सात सीटों पर वोट डाले जाएंगे.

ये हैं सीटें

उत्तर प्रदेश- सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अम्बेडकर नगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर, भदोही

मध्य प्रदेश- मुरैना, भिंड, गुना, विदिशा, राजगढ़, सागर, ग्वालियर, भोपाल

बिहार- वाल्मीकिनगर, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सिवान, महराजगंज

हरियाणा- अंबाला, कुरुक्षेत्र, सिरसा, हिसार, करनाल, सोनीपत, रोहतक, भिवानी-महेंद्रगढ़, गुड़गांव, फरीदाबाद

झारखंड- गिरीडीह, धनबाद, जमशेद्पुर, सिंहभूम

दिल्ली- चांदनी चौक, नई दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तर पश्चिम दिल्ली, पश्चिम दिल्ली, दक्षिण दिल्ली

पश्चिम बंगाल- तामलुक, कांति, घाटल, झारग्राम, मेदिनीपुर, पूर्णिया, बांकुरा, विष्णुपुर

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक छठे चरण में 967 उम्मीदवारों के आंकड़ों का अध्ययन किया गया है। इनमें से 311 कैंडिडेट करोड़पति हैं। इस चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवारों की संख्या सर्वाधिक है, लिहाजा निर्दलीय करोड़पति उम्मीदवार भी बड़ी संख्या में हैं। निर्दलीय और अन्य कैटेगरी में 757 में से 171 उम्मीदवार रईस हैं। पार्टी की बात करें तो एडीआर ने बीजेपी के 54 उम्मीदवारों के आंकड़ों का अध्ययन किया है और इनमें से 46 करोड़पति हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top