Top
Breaking News
Home > राष्ट्रीय > पैसों के मामले में मुकेश अंबानी भी हो सकते हैं इनसे पीछे

पैसों के मामले में मुकेश अंबानी भी हो सकते हैं इनसे पीछे

 Shiv Kumar Mishra |  9 April 2020 1:50 PM GMT  |  दिल्ली

पैसों के मामले में मुकेश अंबानी भी हो सकते हैं इनसे पीछे

दौलत बनाने में मुकेश अंबानी को भी पछाड़ सकते हैं राधाकिशन दमानी

डीमार्ट के प्रमोटर राधाकिशन दमानी की दौलत लगातार बढ़ रही है। अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जब लॉकडाउन में सबको नुकसान हुआ है तो दमानी को फायदा हुआ है। अगर दौलत बढ़ने की यह रफ्तार बरकरार रहती है तो वह दिन दूर नहीं जब वे मुकेश अंबानी को पछाड़कर देश के सबसे अमीर शख्स बन जाएंगे।

राधाकिशन दमानी भारत के शायद एकमात्र दौलतमंद हैं, जिनकी संपत्ति कोरोना वायरस लॉकडाउन के बाद शेयर बाजार में आए भारी भूचाल में बढ़ी है। इस भूचाल से जहां देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की दौलत एक तिहाई घट गई, वहीं शिव नाडर, उदय कोटक और गौतम अडाणी जैसे अरबपतियों को फोर्ब्स की दुनिया के 100 सबसे अमीरों की सूची से बाहर कर दिया। शेयर बाजार के एक निवेशक के रूप में कारोबार की शुरुआत करने वाले दमानी आज अरबपतियों की लिस्ट में हैं और यही रफ्तार बरकरार रही तो जल्द ही मुकेश अंबानी को पछाड़ भी सकते हैं।

दुनिया के 65वें सबसे अमीर दमानी

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मुकेश अंबानी फोर्ब्स के अरबपतियों की सूची में 44.3 अरब डॉलर (3.32 लाख करोड़ रुपये) की संपत्ति के साथ 17वें पायदान पह हैं तो वहीं 16.6 अरब डॉलर (1.24 लाख करोड़ रुपये) की संपत्ति के साथ दमानी 65वें स्थान पर हैं।

संपत्ति में 2,900 करोड़ का इजाफा

शुक्रवार को बाजार बंद होने पर उनकी कुल संपत्ति 10.10 अरब डॉलर की थी। पिछले एक साल में उनकी संपत्ति में 416 मिलियन डॉलर (करीब 2,900 करोड़) का इजाफा हुआ है। राधाकिशन दमानी की कंपनी डी-मार्ट के शेयर में अभी भी उछाल बरकरार है। 13 मार्च 2019 के मुकाबले शेयर में 8.64 पर्सेंट की तेजी है। आज भी इसके शेयर में 4.81 फीसदी (96.50 रुपये) की तेजी आई है।

अंबानी को 19 अरब डॉलर का नुकसान

देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की संपत्ति में 19 अरब डॉलर की गिरावट आई है। वह अब एशिया के सबसे अमीर शख्स भी नहीं रह गए। यह तमगा अब अलीबाबा के जैक मा के पास चला गया है। संपत्ति को हुए नुकसान के मामले में मुकेश अंबानी विश्व में पांचवें पायदान पर हैं।

कोरोना से जंग में 155 करोड़ का दान

राधाकिशन दमानी ने पीएम-केयर्स और अन्य राज्य के राहत कोषों को कुल 155 करोड़ रुपये का दान दिया है। डी-मार्ट पर मालिकाना हक रखने वाली कंपनी एवेन्यू सुपरमार्ट्स के मुताबिक, इसमें से 100 करोड़ रुपये पीएम-केयर्स कोष और 55 करोड़ रुपये 11 राज्य सरकारों के राहत कोष में जाएंगे।

कौन हैं राधाकिशन दमानी

राधाकिशन दमानी ने शेयर बाजार में अपनी शुरुआत 1980 के दशक में की थी। उनकी कंपनी डी-मार्ट का आईपीओ 2017 में आया था। 20 मार्च 2017 तक राधाकिशन दमानी सिर्फ एक रिटेल कंपनी के मालिक थे, लेकिन 21 मार्च की सुबह जैसे उन्होंने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) की घंटी बजाई, वैसे ही उनकी संपत्ति 100 फीसदी तक बढ़ गई।

कैसे हुआ चमत्कार

21 मार्च, 2017 की सुबह जब राधाकिशन दमानी की कंपनी का आईपीओ शेयर बाजार में लिस्ट हुआ तो उनकी संपत्ति, कई अमीर घरानों से ज्यादा हो गई। डी-मार्ट का शेयर 604.40 रुपये पर लिस्ट हुआ, जबकि इश्यू प्राइस 299 रुपये रखा गया था। यह 102% का रिटर्न है। पिछले 13 साल में लिस्टिंग के दिन किसी शेयर की कीमत में इतनी बढ़ोतरी नहीं हुई थी

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it