Top
Home > राष्ट्रीय > सकसे की बीबी और फरकते के मिंया, नकाबिलेमाफी नापाक पड़ोसी पाकिस्तान और गुलाम काश्मीर वापसी का सही समय

"सकसे की बीबी और फरकते के मिंया", नकाबिलेमाफी नापाक पड़ोसी पाकिस्तान और गुलाम काश्मीर वापसी का सही समय

 Special Coverage News |  28 Feb 2019 3:25 AM GMT  |  दिल्ली

सकसे की बीबी और फरकते के मिंया, नकाबिलेमाफी नापाक पड़ोसी पाकिस्तान और गुलाम काश्मीर वापसी का सही समय
x

भोलानाथ मिश्र वरिष्ठ पत्रकार

हमारी भूल से पैदा हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान की स्थिति "सकसे की बीबी और फरकते के मिंया" बनने जैसी पैदाइश के बाद से लेकर आज तक बनी हुयी है।हमारे यहाँ कुत्ता ऐसा होता है जो जब मुसीबत में फंस जाता है तब जीभ निकालकर पैर चांटने लगता है और जब किसी तरह जान बचाकर बाहर आ जाता है तो फिर भौंकने एवं काटने दौड़ने लगता है।दुनिया में ऐसे बहुत कम देश होगें जो आतंकी एवं आतंकी समर्थक सेना के इशारे पर उसके मार्गदर्शन में सरकार चलाते हो और बाहर भींखमंगा बनकर आतंंकवाद से बचाने की गुहार लगाकर सहायता लेते हो। हमारा पड़ोसी गुलाम काश्मीर के सहारे अपनी नापाक हरकतों का संचालन कर रहा है और इसके विस्तार के रूप में वह जम्मू कश्मीर हमसे छीनने की योजना के तहत आजादी के नाम पर लोगों को भड़का कर मुजाहिदीन बनाकर उन्हें आतंकी फियादीन बना रहा है।



आज गुलाम काश्मीर हमारे देश के विरोधियों गद्दारों दैशद्रोहियों एवं दुश्मनों का गढ़ बनकर आजाद जम्मू कश्मीर के लिये ही नहीं बल्कि देश की एकता अखंडता के लिये खतरा बनता जा रहा है। जम्मू कश्मीर ही नहीं बल्कि पूरे देश दुनिया में फैले आतंंकवाद के समूल खात्में के लिए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर का पुराने नक्शे पर लाना जरूरी होगा।हम गुलाम काश्मीर के लिए आजादी के बाद से ही लड़ रहे हैं लेकिन राजनैतिक इच्छाशक्ति के अभाव में अबतक उसे वापस भारत में नहीं मिला सके हैं।जब तब गुलाम काश्मीर क़ो मुक्त नहीं कराया जाता है तबतक पाकिस्तान को अपनी नापाक हरकते आतंकियों से कराने का अवसर मिलता रहेगा।पुलवामा में एक पखवाड़ा पहले पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश मोहम्मद द्वारा सीआरपीएफ के काफिले पर किये आतंकी हमले में हुयी जवनों की शहादत के बाद हमारी सेना की तरफ से की गयी ऐतहासिक जबाबी एअर सर्जिकल स्ट्राइक के बाद एक बार फिर हमारे पड़ोसी की स्थिति कुत्ते के भौंकने जैसी हो गयी है।कल सुबह उसने भौंकने के अंदाज में अपना फाइटर विमान हमारी सीमा में भेजने का दुःसाहस करने की कोशिश की जिसे हमारी बहादुर सेना ने घुसने से पहले ही मार गिराया।इसके जबाब में वह सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन कर लगातार फायरिंग कर रहा है।उसनें हमारे एक हेलीकॉप्टर क्रेस होने से जान बचाकर पैराशूट से कूदे हमारे पायलट को पकड़ लिया।



जब हमारे देश की सरकार और सेना ने आँखें तरेरी तो भौं भौं करता जान बख्सने की दुहाई तो मांगने लगा है लेकिन उसने गिरफ्तार किये गये पायलट को अफ तक रिहा नही किया है।आज दुनिया के अधिकांश देश पाकिस्तान में आतंकी संरक्षण के खिलाफ भारत के साथ खड़े हैं ऐसे समय में आतंकिस्तान बने पाक अधिकृत कश्मीर में बैठे आतंकियों का सर्वनाश कर अपने देश के नक्शे पर लगे दाग को मिटा देना चाहिए। पाकिस्तान हमेशा परमाणु हमले की गिदर भभकी देता है। वह भूलता है कि परमाणु हमले से भारत नही बल्कि वह दुनिया के नक्शे से गायब हो जायेगा। हम आजादी के बाद से उसे माफ करते चले आ रहे है और गलती पर गलती करते करके माफी मांगने का आदी हो गया है।पाकिस्तान भूलता है कि वह हमारे बड़प्पन और विश्वबंधुत्व भावना के कारण वह आजतक जिंदा है अन्यथा उसकी तेरही बरसी न जाने कब की हो गई होती।आजादी के समय हुयी भूलों को सुधारने का समय आ गया है क्योंकि इक्सवीं सदी उज्जवल भविष्य की परिकल्पना की गई है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it