Top
Home > राष्ट्रीय > पीएम मोदी पर राहुल गांधी का नया आरोप, बोले अनिल अंबानी को दिलाया जम्मू-कश्मीर के कर्मचारियों के बीमे का काम

पीएम मोदी पर राहुल गांधी का नया आरोप, बोले अनिल अंबानी को दिलाया जम्मू-कश्मीर के कर्मचारियों के बीमे का काम

राफेल सौदे (Rafale Deal) को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर रुख अख्तियार करने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक बार फिर से सरकार पर प्रहार किया है.

 Special Coverage News |  7 Oct 2018 12:19 PM GMT  |  दिल्ली

पीएम मोदी पर राहुल गांधी का नया आरोप, बोले अनिल अंबानी को दिलाया जम्मू-कश्मीर के कर्मचारियों के बीमे का काम
x
Congress President Rahul Gandhi

नई दिल्ली। राफेल विमान सौदे को लेकर मोदी सरकार पर लगातार हमलावर रुख अपनाने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब पीएम मोदी पर एक और मामले में अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के गंभीर आरोप लगाए हैं. राहुल ने आऐरोप लगाया है कि पीएम मोदा ने जम्मू-कश्मीर सरकार पर दबाव डाल कर सूबे के चार लाख सरकारी कर्मचारियों के स्वास्थ्य बीमा का काम अनिल अंबानी की बीमा कंपनी रिलायंस इंश्योरेंस को दिलवाया है. राहुल के इस आरोप के बाद बीजेपी में हड़कंप मच गया है.

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में लगभग चार महीने से राष्ट्रपति शासन लागू है. राष्ट्रपति शासन में राज्य पर एक तरह से केंद्र सरकार का ही नियंत्रण होता है. राहुल गांधी के इन आरोपों के जम्मू-कश्मीर और केंद्र की सियासत में भी हचलच मच गई है. यह बात सही है क् राज्य सरकार ने उद्योगपति अनिल अंबानी की कंपनी से ही राज्या के 4 लाख कर्मचारियों के लिए बीमा पॉलिसी ली है. इस डील में पीएम के दबाव के कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों के बीच राज्य सरकार ने शनिवार को सफाई दी कि यह योजना निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से लागू की जा रही है. सरकार के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार ने ग्रुप मेडिकल हेल्थ बीमा योजना निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से जरूरी प्रक्रियाओं का पालन करने के बाद लागू की है.

वहीं इस मुद्दे पर आक्रामक रुख अपनाने वाले राहुल गांधी ने इसे लेकर सीधे पीएम मोदी पर जोरदार हमला हमला बोला है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी और उद्योगपति अनिल अंबानी की दोस्ती पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का 'सदाबहार दोस्त' होने पर किसी व्यक्ति को बगैर किसी अनुभव के ना सिर्फ '1,30,000 करोड़ रुपये' का राफेल सौदे का साझीदार बनाया जा सकता है, बल्कि किसी राज्य के 4 लाख सरकारी कर्मचारियों के बीमा करने का काम भी उसे ही मिल सकता है.

पिछले क़रीब सालभर से राहुल गांधी राफेल विमान सौदे से जुड़ी ऑफसेट डील अनिल अंबानी की कंपनी को दिए जाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमलावर हैं. अब राहुल ने बीमा डील को भी पीएण से जोड़ कर इसे सबड़े मुद्दा बनाने की कोशिशें तेज़ कर दी है. ग़ौरतलब है कि हाल ही में मीडिया में खबर आई है कि जम्मू-कश्मीर में राज्यके 4 लाख सरकरारी कर्मचारियों की हेल्थ बीमा पालिसी सरकारी कंपनी के बजाय रिलायंस इंश्योरेंस के खरीदी गई है. इसका ख़बर का ज़िक्र करते हुए राहुल ने एक ट्वीट में कहा कि जब आपका 'बेस्ट फ्रेंड फॉरएवर'' (सदाबहार मित्र) प्रधानमंत्री हो, तो आपको 1,30,000 करोड़ रुपये की राफेल डील भी बगैर किसी अनुभव के मिल सकती है. लेकिन और भी चीजें हैं. जाहिर तौर पर, जम्मू-कश्मीर के 4 लाख सरकारी कर्मचारियों पर भी आपकी ही कंपनी से स्वास्थ्य बीमा खरीदने के लिए दबाव डाला जाएगा.

मीडिया में आई ख़बर में दावा किया गया है कि जम्मू कश्मीर सरकार ने अपने कर्मचारियों को स्वास्थ्य बीमा मुहैया करने के लिए रिलायंस जनरल इंश्योरेंस को चुना. ग़ौरतलब है कि इससे पहले मध्य प्रदेश के एक दिवसीय दौरे पर गये मुरैना में राहुल गांधी ने मोदी सरकार को कई मुद्दों को लेकर घेरा था. राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने सिर्फ उद्योगपतियों को ही फायदा पहुंचाया है. मोदी सरकार ने राफेल पर भी देश के साथ छलावा किया है. अम्बेडकर स्टेडियम में आदिवासी एकता परिषद के सम्मेलन को सम्बोधित करते गांधी ने कहा कि मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आने पर आदिवासी अधिकार विधेयक लागू किया जायेगा। मालूम हो कि इन तीनों राज्यों में नवम्बर और दिसंबर में विधानसभा चुनाव होने हैं.

राहुल गांधी ने सीधे पीएम मोदी के निशाना बनाते हुए कहा, 'अगर आप अमीरों की मदद करना चाहते हैं तो करें, लेकिन इसके साथ ही किसानों और समाज के गरीब तबकों की भी मदद करें. उन्होंने मोदी सरकरा से सवाल किया, ' अगर अमीरों के तीन लाख करोड़ रुपये माफ किये जा सकते हैं तो किसानों और अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को भी इस प्रकार की राहत क्यों नहीं दी जा सकती.' कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ''आदिवासी विधेयक आपको कोई तोहफा नहीं है, बल्कि यह आपका अधिकार है. आदिवासी लोगों को जमीन, पानी और जंगल पर उनका अधिकार ज़रूर मिलना चाहिये.'

Tags:    
Next Story
Share it